उर्वरक

कहीं सूख ना जाए अनाज का कटोरा, अलार्मिंग सिचुएशन से गुजर रही है पंजाब की मिट्टी

कृषि विभाग (Agriculture Department) ने इस कमी को दूर करने के लिए किसानों को जागरूक करने की कवायद शुरू कर दी है. पोषक तत्वों की कमी खेत में फसल के अवशेष को आग लगाने, किसान (farmer) की अज्ञानता और रासायनिक खाद (fertilizer) और कीटनाशकों का अधिक प्रयोग करना है.

Sep 27, 2019, 06:10 PM IST

कृषि क्रांति: कम उर्वरकों में अधिक उपज लेने का नया आर्ट

यूरिया का सही डोज लीफ कलर चार्ट से तय करें. लागत घटाकर उपज बढ़ाने का सटीक मंत्र. देखिए, कृषि क्रांति...

Aug 30, 2019, 11:14 AM IST

कृषि क्रांति: जानिए, बीज-खाद में ठगी से बचने के तरीके

कई बार दुकानदार लालच में गलत बीज और उर्वरक दे देते है, जिससे फ़सल बर्बाद हो जाती है. नुकसान से बचना है तो खरीदते समय सावधानियां बरतें. देखिए, कृषि क्रांति...

मई 13, 2019, 10:14 AM IST

बुनियादी उद्योगों की वृद्धि दर भी हुई तेज, अप्रैल में 8.5 प्रतिशत रही

देश में बुनियादी क्षेत्र के आठ उद्योगों में उत्साहजनक सुधार के संकेत के साथ इन उद्योगों ने अप्रैल में 8.5 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की जो पिछले चार साल में सबसे तीव्र वृद्धि दर है। 

मई 31, 2016, 10:50 PM IST

सूर्य के प्रकाश के साथ उर्वरक बनाने का अनूठा तरीका किया ईजाद

वैज्ञानिकों ने सूर्य के प्रकाश का इस्तेमाल करके उर्वरक के मुख्य घटक अमोनिया की एक नई पर्यावरणोन्मुखी किस्म का निर्माण किया है।

Apr 23, 2016, 10:27 PM IST

बुनियादी उद्योगों की वृद्धि सितंबर में 3.2%, 4 माह में सर्वाधिक

ढांचागत क्षेत्र के आठ प्रमुख उद्योगों की वृद्धि दर सितंबर में पिछले चार माह में सर्वाधिक 3.2 प्रतिशत रही। इस दौरान बिजली क्षेत्र और उर्वरक उत्पादन में तीव्र वृद्धि दर्ज की गई।

Nov 3, 2015, 12:07 AM IST

बुनियादी उद्योगों की वृद्धि दर फरवरी में सुस्त पड़ी, घटकर 1.4% पर

आठ बुनियादी उद्योगों की वृद्धि दर फरवरी में घटकर 1.4% पर आ गई है। कच्चे तेल और प्राकृतिक गैस सहित पांच क्षेत्रों में उत्पादन घटने से बुनियादी उद्योगों की वृद्धि दर कम हुई है।

Mar 31, 2015, 08:14 PM IST

बुनियादी उद्योगों की वृद्धि दर जनवरी में घटकर 13 माह के निचले स्तर 1.8% पर

कच्चे तेल व प्राकृतिक गैस के उत्पादन में गिरावट से बुनियादी उद्योगों की वृद्धि दर जनवरी में घटकर 1.8% पर आ गई है। यह इसका 13 माह का निचला स्तर है।

Mar 2, 2015, 07:48 PM IST

'जरूरतमंदों को नहीं मिल रहा सब्सिडी के 3.77 लाख करोड़ का लाभ'

खाद्यान्न, ईंधन, रेल, उर्वरक और अन्य मदों में सब्सिडी 3.77 लाख करोड़ रुपये पर पहुंच गयी है, लेकिन इस बड़ी राशि में कुछ ही हिस्सा जरूरतमंदों तक पहुंच रहा है।

Feb 27, 2015, 06:56 PM IST

सब्सिडी में कटौती, उर्वरक और होगा महंगा!

विश्व बाजार में घटते दाम के मद्देनजर सरकार डाय-अमोनियम फॉस्फेट (डीएपी) और म्युरिएट ऑफ पोटाश (एमओपी) जैसे फास्फेटिक और पोटाशिक (पी एंड के) उर्वरकों की सब्सिडी में 2,000 से 2,700 रुपये प्रतिटन तक कटौती कर सकती है।

Mar 26, 2013, 07:45 PM IST