जहांगीर

पाकिस्तान में विरासतों की हुई दुर्दशा, जहांगीर और नूरजहां के मकबरों की खस्ता हालत

वॉल्ड सिटी ऑफ लाहौर अथॉरिटी के अधिकारियों ने कहा है कि दोनों स्मारकों की साफ-सफाई और उनके खस्ताहाल ढांचे का संरक्षण कर उसे पर्यटन के लिहाज से विकसित करने का प्रयास किया जाएगा

Nov 24, 2019, 09:11 AM IST

अंत की ओर इतिहास !

अजमेर : मुग़ल ज़माने के जहाँगीरी दौर में 1615 में तामीर किए गए अजमेर के चश्मा ए नूर अपनी बदहाली पर आंसू बहा रहा है... 4 सौ बरस गुजर जाने के बाद पहली बार पुरातत्व विभाग ने इसकी मरम्मत का जिम्मा उठाया लेकिन वन विभाग की इज़ाजत नहीं मिली...ऐसे में सवाल है कि आखिर कब चश्मा ए नूर के दिन बदलेंगे....

Mar 30, 2019, 06:54 PM IST

जानें, कैसे कोहिनूर शाहजहां के मोहब्बत पर भारी पड़ा

कोहिनूर की माया अकबर की तरह जहांगीर पर भी हावी नहीं हो पाई थी और उसने भी शायद कोहिनूर को शाही खजाने में ही दफ्न रहने दिया. लेकिन जहांगीर के बेटे शाहजहां के मन में रत्नों के लिए जबरदस्त आशक्ति थी. 24 फरवरी 1628 को हिन्दुस्तान के सिंहासन पर बैठते ही शाहजहां को शाही खजाने में दफ्न कोहिनूर की अनोखी चमक मोहित करने लगी. लेकिन कोहिनूर को लेकर शाहजहां का मोह उसकी मोहब्बत पर भारी पड़ गया. देखना ना भूलें ज़ी हिन्दुस्तान की खास पेशकश 'मैं भारत हूं' शनिवार और रविवार रात 9:25 बजे...

Jan 19, 2019, 11:49 PM IST