Zee Rozgar Samachar

godess laxmi

Sakat Chauth: जानिए कैसे श्रीगणेश बने लक्ष्मी पुत्री संपूर्णानंद, क्या है व्रत विधि

संकष्ठी चतुर्थी का व्रत सौभाग्य और आरोग्य का व्रत है. यह बच्चों के उत्तम स्वास्थ्य की कामना से रखा जाने वाला व्रत है. प्राचीन काल से चली आ रही इस परंपरा के पीछे कई कथाएं हैं. 

Jan 31, 2021, 06:58 AM IST

Haridwar Mahakumbh 2021: समुद्र देव का वह श्राप जो बन गया महाकुंभ की वजह

कुंभ के आयोजन का आधार कई पौराणिक कथाएं हैं. कुछ कथाओं का वर्णन भागवत में है तो कुछ कथाएं स्वरूप बदल-बदलकर लोक शैली में कही और सुनाई जाती रही हैं

Jan 19, 2021, 07:57 AM IST

संकष्ठी चतुर्थी व्रत आज, अगहन के इस गुरुवार को करें मां लक्ष्मी की पूजा

तिथियों व व्रत आदि के आधार पर मार्गशीर्ष {अगहन} मास के चतुर्थी तिथि को संकष्ठी  चतुर्थी का व्रत किया जाता है. इसे गणाधिप संकष्टी चतुर्थी भी कहा जाता है. संकष्ठी चतुर्थी व्रत रखने से व्रत रखने वाले की सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं. यह व्रत गणेश भगवान को समर्पित है. 

Dec 3, 2020, 03:12 AM IST

प्रकृति और परिवार की पूजा का प्रतीक है गोवर्धन पूजा

वैदिक रीति व मान्यता के अनुसार इस दिन वरुण, इंद्र, अग्नि की पूजा की जाती है. साथ में गायों का श्रृंगार करके उनकी आरती की जाती है और उन्हें फल मिठाइयां खिलाई जाती हैं. गाय के गोबर से गोवर्धन पर्वत की प्रतिकृति बनाई जाती है.

Nov 15, 2020, 05:02 PM IST

शरद पूर्णिमा पर खीर से लीजिए आरोग्य का वरदान

खीर खाना, पित्त को नियंत्रित करता है. इसलिए पित्त के असंतुलन से बचने के लिए इस समय खास तौर से खीर खाने की परंपरा है. खीर हमारे शरीर में पित्त का प्रकोप कम करती है और मलेरिया के खतरे को कम करती है. 

Oct 30, 2020, 02:33 PM IST

24 सितंबर को पद्मा एकादशी, विष्णु जी बदलेंगे करवट, लक्ष्मी जी लौटायेंगी खोया राज्य

दिल्ली: 24 सितंबर को भगवान विष्णु जी करवट बदलने वाले हैं। इस अवधि में आप जो मांगेंगे, वह सब मिलेगा। कहते हैं कि भगवान विष्णु, करवट बदलने के समय प्रसन्न मुद्रा में रहते हैं। इस अवधि में, जो भक्त विष्णु सहस्त्रनाम पढ़ते हैं, उनकी सभी मनोकामनायें पूरी होती हैं। भाद्रपद शुक्ल पक्ष की एकादशी पद्मा एकादशी, परिवर्तिनी एकादशी, पद्मा एका

Sep 23, 2015, 01:54 PM IST

15 दिन में, लक्ष्मी के 15 उपाय से, पायें 15 करोड़ रूपये

धन सबकी किस्मत में है। सबके लिये विष्णु-लक्ष्मी जी, संपत्ति से भरी तिजोरी भेजते हैं। बस उस तिजोरी की चाबी उनके पास होती है। धनी बनने के लिए इसी तिजोरी की चाबी को खोजना है। चाबी कैसे मिलेगी यह बड़ा सवाल है। तो इसके लिए करने होंगे लक्ष्मी जी के उपाय। वैसे भी महालक्ष्मी व्रत 17 सितंबर से शुरू हो चुका है। लक्ष्मी जी आपके घर में, उत्तर दिशा से आयेंगी। तो धन संपत्ति पाने के लिये, लक्ष्मी जी को उत्तर दिशा से पुकारें। 15 दिन लक्ष्मी की आराधना से जन्म-जन्म की कंगाली दूर होगी। महालक्ष्मी व्रत के 15 दिन में अगर आप, मां लक्ष्मी को प्रसन्न करेंगे तो दीपावली आने तक छप्पर फाड़कर धन बरसने का योग बन सकता है। बस इसके लिये आपको लक्ष्मी जी के 15 उपाय करने होंगे। इन 15 उपायों से,15 दिन में,15 करोड़ तक कमा सकते हैं। तो ज़रा जल्दी से इन लक्ष्मी उपायों पर नज़र डालिये और इनमें से कोई एक उपाय चुनकर उसे रोज़ करना शुरु करें। 

Sep 21, 2015, 04:16 PM IST