close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

mohammed rafi death anniversary

#Throwback: 'बाबुल की दुआएं...' के लिए जीता था रफी ने नेशनल अवॉर्ड, गाना सुनकर नम हो जाएंगी आंखें

जहां चाह है वहीं पर तो राह है...रफी साहब पर ये लाइनें सटीक बैठती हैं. किसी प्रोफेशनल गुरु को चुनने की बजाय रफी साहब ने गांव के फकीर की नकल कर गाना सीखा था. महज 13 साल की उम्र में उन्होंने अपनी पहली परफॉर्मेंस दी.

Jul 31, 2019, 10:47 AM IST