close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

ZEE जानकारी: किसी भी App का इस्तेमाल करने से पहले बरतें सावधानी

अगर आप स्मार्टफ़ोन रखते हैं...तो आपको कोई भी App Download करते वक़्त सावधान रहना चाहिये. 

ZEE जानकारी: किसी भी App का इस्तेमाल करने से पहले बरतें सावधानी

अब हमारा आपसे एक सवाल है. अगर आपके चेहरे की चोरी कर ली जाये तो आप क्या करेंगे, किससे शिकायत करेंगे. किसके ख़िलाफ़ FIR करेंगे. कौन सी अदालत में मुक़दमा लड़ेंगे और अपने चुराये गये चेहरे को वापस कैसे हासिल करेंगे. इसलिये आज हमने आपके लिये चेहरों की चोरी का एक विश्लेषण किया है. 

अगर आप स्मार्टफ़ोन रखते हैं...तो आपको कोई भी App Download करते वक़्त सावधान रहना चाहिये. आमतौर पर लोग अपने मोबाइल पर नई-नई App बहुत उत्साह के साथ डाउनलोड कर लेते हैं. लेकिन उनको इस्तेमाल करने के बदले App बनाने वाली कंपनी लोगों की निजी जानकारी डाउनलोड कर लेती हैं. उनका Data चोरी हो जाता है और फिर उनका ग़लत इस्तेमाल किया जाता है.
दुनिया में 60 प्रतिशत से ज़्यादा साइबर क्राइम Smartphone से जुड़े होते हैं. और इनमें 80 प्रतिशत अपराध की वजह मोबाइल Apps होते हैं.

सोशल मीडिया पर आजकल एक App काफ़ी लोकप्रिय बन चुका है. ये मोबाइल App ख़ास सॉफ्टवेयर की मदद से किसी व्यक्ति को जवान या बूढ़ा दिखा सकता है. इस App को इस्तेमाल करने वाले लोग अपनी बुढ़ापे या जवानी वाली तस्वीर सोशल मीडिया पर ख़ूब पोस्ट भी कर रहे हैं.
Russia में तैयार किया गया ये App, तस्वीर में व्यक्ति का जेंडर भी बदला जा सकता है, यानी ये App पुरुष की तस्वीर को महिला में तब्दील कर देता है और महिला को पुरुष की तरह दिखाता है.

इस App को वर्ष 2017 में लॉन्च किया गया था. कई मशहूर फिल्म कलाकारों और अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ियों की बुढ़ापे वाली तस्वीर आजकल सोशल मीडिया पर देखने को मिल रही हैं. ये तस्वीर इसी App के ज़रिये बनाई गई हैं. ये App लोगों की तस्वीरों में झुर्रियां डाल देता है. बालों को सफ़ेद कर देता है, और उनकी उम्र 60 से 80 वर्ष के बीच दिखाता है.
आयुष्मान खुराना और अर्जुन कपूर ने ख़ुद अपनी तस्वीर Tweet करके बताया है कि वो बूढ़े होकर कैसे दिखेंगे. 

सोशल मीडिया पर भारतीय क्रिकेट टीम का बुज़ुर्गों वाला वर्ज़न भी वायरल है. विराट कोहली, महेंद्र सिंह धोनी, रोहित शर्मा, रविंद्र जडेजा की भी बुढ़ापे वाली तस्वीर आजकल सोशल मीडिया में घूम रही हैं. इन मशहूर लोगों की ऐसी तस्वीरें देखकर हैरानी होती है, लोग मुस्कुराते भी हैं. और इसी तरह लोग अपने बुढ़ापे की झलक भी देखने के लिये इस App को डाउनलोड कर रहे हैं.))

लेकिन, क्या आपने कभी सोचा है कि स्मार्टफ़ोन वाला ये खेल आपके लिये मुश्किलें भी पैदा कर सकता है ?
क्योंकि जब आप अपनी तस्वीर इस App के Server पर भेजते हैं...तो साथ में आप इस App को अपना Data इस्तेमाल करने की पूरी आज़ादी भी देते हैं. जब भी आप मोबाइल में कोई App Download करते हैं...तो वो आपको ये भी बताता है कि वो आपके फ़ोन से कौन-कौन सी जानकारी लेगा.

इस App के Term & Conditions कहते हैं कि वो आपकी तस्वीर इस्तेमाल करेंगे और उसके साथ जुड़ा हुआ तमाम Data पर भी उनका अधिकार होगा. वो जब चाहें और जिसे चाहें और इसके इस्तेमाल के बदले वो आपको किसी प्रकार की Royalty या Compensation नहीं दिया जाएगा. वो किसी भी तरह आपकी तस्वीर का इस्तेमाल करने के लिये स्वतंत्र हैं. इसके लिये उन्हें आपसे किसी तरह की अनुमति लेने की ज़रूरत नहीं है. यही वजह है कि इस App पर Privacy यानी आपकी निजी ज़िंदगी को सार्वजनिक करने का आरोप लग रहा है. आप इसे चेहरे की चोरी ही नहीं...इसे चेहरों की डकैती भी कह सकते हैं. 

एक इंसान की पहचान उसके चेहरे से होती है. लोगों को उनके चेहरे से पहचाना जाता है. आपके पासपोर्ट, या फिर आपके दफ़्तर के i-Card से आपकी पहचान होती है. आप वोट भी तभी डाल पाते हैं...जब Voter i-Card पर आपकी तस्वीर आपके चेहरे से मिलती है. अब अगर कोई आपके चेहरे को ही Hack कर ले और अलग-अलग Software की मदद से उसमें बदलाव करके उसका ग़लत इस्तेमाल करे, तो आप इसके लिये किसे दोषी ठहराएंगे ? क्योंकि आपने तो App की सभी शर्तें पहली ही मानी हुई हैं.

इस App को दुनियाभर में 12 करोड़ से ज़्यादा लोगों ने डाउनलोड किया हुआ है. यानी उन लोगों के मोबाइल में जो कुछ भी है, वो इस App की पहुंच में है.

अमेरिका में App बनाने वाले एक इंजीनियर Joshua Nozzi (जोशुआ नॉज़ी) के मुताबिक़ ये विवादित App लोगों की तस्वीरें उनकी इजाज़त के बिना इस्तेमाल कर रहा है.
लेकिन फ्रांस के एक Cyber-security expert Elliot Alderson (ऐलियट ऐलडर्सन) ने अपनी जांच में इस Russian App को एक तरह से Clean चिट दी है. उनके मुताबिक़ इस मोबाइल App ने सिर्फ़ उन्हीं तस्वीरों को चुना...जिसके लिये Users ने अनुमति दी थी.

लेकिन अब एक App को लेकर अमेरिका और Russia वाली तकरार भी शुरू हो गई है. 
अमेरिका में सीनेट के एक सदस्य चक शूमर ने इस Russian App को राष्ट्रीय सुरक्षा के लिये ख़तरा बताया है. और इसकी जांच FBI से कराने की मांग की है.

उनका मानना है कि ये एक Russian App है, इसलिये इसे इस्तेमाल करने वाले लाखों अमेरिकी नागरिकों की निजी जानकारी का ग़लत इस्तेमाल हो सकता है. अमेरिका की डेमोक्रेटिक नेशनल कमेटी ने भी अपने नेताओं को अलर्ट किया है कि वो इस App का इस्तेमाल ना करें. क्योंकि इसके पीछे Russia के बुरे इरादे हो सकते हैं. Russia पर पहले ही अमेरिका में राष्ट्रपति पद के चुनाव को प्रभावित करने के आरोप लगते रहे हैं.

लेकिन इस विवादित App ने सफ़ाई दी है कि उसके User पूरी तरह सुरक्षित हैं. और जो तस्वीरें App Users ने दी हैं, सिर्फ़ उन्हें ही Upload किया गया है. उनकी ज़्यादातर Photos को 48 घंटों के अंदर ही Server से Delete कर दिया जाता है. इसके दूसरे मायने ये हैं कि कुछ तस्वीरें बच जाती हैं जो नहीं हटाई जातीं. और फिर उनका ग़लत इस्तेमाल भी हो सकता है. आज के दौर में मोबाइल बैंकिंग आम बात है. और अगर इन Apps की पहुंच आपके बैंक खातों तक हो जाए...तो आप अंदाज़ा लगा सकते हैं कि ये कितना बड़ा ख़तरा बन जाएंगे.

इसलिये App चाहे कोई भी हो, आप हमेशा सतर्क रहिये. आज के स्मार्टफ़ोन वाले ज़माने में बहुत सी ऐसी बातें हैं...जिन्हें लोग गंभीरता से नहीं लेते हैं, और फिर साइबर क्राइम का शिकार बन जाते हैं.