देश में लाइट हाउस टूरिज्म का सपना होगा साकार, सरकार बना रही मेगा प्लान

लाइट हाउस टूरिज्म का सपना जल्द ही भारत में सच होने जा रहा है. 

देश में लाइट हाउस टूरिज्म का सपना होगा साकार, सरकार बना रही मेगा प्लान

नई दिल्ली: लाइट हाउस टूरिज्म का सपना भारत में सच होने जा रहा है. सरकार की जल्द ही देश में लाइट हाउस टूरिज्म को शुरू करने की योजना है. शिपिंग मिनिस्ट्री ने हाल ही में इसे लेकर बैठक की.

इस बैठक में देश के आइकॉनिक लाइट हाउसेज के आस पास पर्यटन को विकसित करने के अवसरों पर चर्चा की गई.

सूत्रों के मुताबिक, शिपिंग मंत्री मनसुख मांडविया ने आज एक उच्च स्तरीय बैठक की. जिसमें देश में मौजूद 194 लाइट हाउसेज को महत्वपूर्ण पर्यटन स्थलों के तौर पर विकसित करने को लेकर चर्चा हुई. 

सूत्रों के अनुसार, सरकर लाइट हाउसेज के आस पास के इलाके में पर्यटन से जुड़ी गतिविधियों को बढ़ाने पर जोर दे रही है. इससे नई नौकरियां पैदा होंगी जो अर्थव्यवस्था के लिए भी बेहतर होगा.

ये भी पढ़ें: दिल्ली दंगों का मास्टरमाइंड फैजल फारूखी अब ED के निशाने पर

लाइट हाउसेज को टूरिज्म स्पॉट्स के तौर पर विकसित करने को लेकर एक विस्तृत एक्शन प्लान भी पेश किया गया. 

शिपिंग मंत्री ने ​अधिकारियों से कहा कि वह ऐसे लाइट हाउसेज की पहचान करें जो 100 साल से ज्यादा पुराने हैं. इसके साथ ही एक म्यूजियम तैयार किया जाए जिसमें लाइट हाउसेज का इतिहास, ये कैसे काम करते हैं, इनके संचालन में क्या इक्पिमेंट इस्तेमाल किए जाते थे, इन सबके बारे में बताया जाए.

ये भी पढ़ें: इस देश के राष्ट्रपति ने नहीं समझी कोरोना की गंभीरता, अब खुद चपेट में, हाल बेहाल

लाइट हाउसेज पर मास्टर डेवलपमेंट प्लान के अनुसार, इसमें मुख्य आकर्षण म्यूजियम, एक्वेरियम, बच्चों के ​खेलने की जगह, बगीचे और वॉटर बॉडीज जैसी चीजें हैं.

बैठक में गुजरात के गोपनाथ, द्वारका और वेरावल के लाइटहाउसेज के पास पर्यटन को विकसित करने की प्रगति पर भी बात हुई.

इस बैठक में मौजूद अधिकारियों में ​शिपिंग सेक्रेटरी, डीजी, डायरेक्टर जनरल आॅफ लाइटहाउसेज एंड लाइटशिप्स शामिल थे. इन सभी को जल्द से जल्द एक विस्तृत प्रेजेंटेशन तैयार करने के लिए कहा गया है. 

ये भी देखें: