photoDetails1hindi

Home Remedies: कमजोर नाखून का इलाज है टी ट्री ऑयल, फंगस और खुजली से भी मिल जाएगा छुटकारा

Fungal Infection Home Remedies: नाखून कमजोर होने की वजह फंगल इंफेक्शन हो सकता है. कई लोगों को नाखून में फंगल इंफेक्शन की परेशानी होती है. इसमें नाखून पीले पड़ जाते हैं. फंगल इंफेक्शन की वजह से नाखून और आसपास की स्किन में खुजली की परेशानी भी होती है. कई बार नाखून कमजोर होकर टूटने भी लगते हैं. इसकी वजह खतरनाक बैक्टीरिया होते हैं. अगर आप फंगल इंफेक्शन को दूर करना चाहते हैं तो टी ट्री ऑयल का इस्तेमाल कर इस परेशानी से छुटकारा पा सकते हैं. 

फंगल इंफेक्शन?

1/5
फंगल इंफेक्शन?

नाखून में बैक्टीरिया की वजह से इंफेक्शन होने लगता है. इसमें शुरू में नाखून का रंग भद्दा होना शुरू करता है. इसके बाद ये धीरे-धीरे नाखून को कमजोर कर देता है. ये इंफेक्शन नाखून उखड़ने की वजह बन जाता है.  फंगल इंफेक्शन हाथ-पैरों में भी फैल सकता है. 

टी ट्री ऑयल

2/5
टी ट्री ऑयल

टी ट्री ऑयल में कई औषधीय गुण मौजूद होते हैं, जो इंफेक्शन को दूर करने का काम करते हैं. टी ट्री ऑयल में एंटी फंगल और एंटी बैक्टीरियल गुण पाए जाते हैं जो नाखून के इंफेक्शन को दूर कर देते हैं.

कैसे करें इस्तेमाल

3/5
कैसे करें इस्तेमाल

टी ट्री ऑइल को लगाने से पहले संक्रमित नाखून को काटकर अलग कर दें. फिर एटीसेप्टिक से साफ करें, ताकि इंफेक्शन दूर हो जाए. कॉटन में ट्री टी ऑयल लेकर इंफेक्शन वाली जगह पर लगाएं. कुछ देर तक इससे जूते-मौजे टच न होने दें. 

इन बातों का रखें ध्यान

4/5
इन बातों का रखें ध्यान

कुछ लोगों को टी ट्री ऑयल से स्किन एलर्जी हो सकती है. इसलिए सीधे नाखून पर लगाने से पहले किसी दूसरी जगह पर लगाकर ट्राई कर लें. एलर्जी से बचने के लिए टी ट्री ऑयल में ऑलिव ऑयल या नारियल का तेल मिलाकर लगाना चाहिए. 

ये तरीके भी हैं कारगर

5/5
ये तरीके भी हैं कारगर

फंगल इंफेक्शन को दूर करने के लिए नीम, हल्दी, नारियल के तेल और एलोवेरा का इस्तेमाल भी किया जा सकता है. इन चीजों में एंटी बैक्टीरियल और एंटी सेप्टिक गुण पाए जाते हैं जो इंफेक्शन को दूर कर देते हैं. 

photo-gallery