न्यूजीलैंड नरसंहार से कुछ मिनट पहले प्रधानमंत्री को मिला था हमलावर का घोषणापत्र

जुमे की नमाज के दौरान हुए इस हमले में 50 लोगों की मौत हो गई थी और 50 अन्य अब भी घायल हैं

न्यूजीलैंड नरसंहार से कुछ मिनट पहले प्रधानमंत्री को मिला था हमलावर का घोषणापत्र
हमले में मारे गए 50 लोगों में पांच भारतीय भी शामिल हैं

नई दिल्ली: न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री जैसिंडा अर्डर्न का कहना है कि उनके कार्यालय को क्राइस्टचर्च में दो मस्जिदों में गोलीबारी से कुछ मिनट पहले बंदूकधारी का घोषणापत्र मिला था.

जुमे की नमाज के दौरान हुए इस हमले में 50 लोगों की मौत हो गई थी और 50 अन्य अब भी घायल हैं. अर्डर्न ने रविवार को पत्रकारों ने कहा, 'मैं उन 30 लोगों में से एक हूं जिन्हें हमले से नौ मिनट पहले घोषणापत्र मेल किया गया था'

उन्होंने कहा, 'इसमें स्थान या अन्य विशिष्ट जानकारियां नहीं दी गई थीं'. अर्डर्न ने कहा कि इस मेल को दो मिनट के भीतर ही सुरक्षा सेवाओं को भेज दिया गया था.

प्रधानमंत्री ने कहा कि उन्होंने लंबे, अस्पष्ट और साजिश से भरे घोषणापत्र को पढ़ा था. उन्होंने कहा, 'तथ्य यह है कि यह इस हमले से जुड़ा एक चरमपंथी दृष्टिकोण वाला वैचारिक घोषणापत्र था, यह बेहद तकलीफदेह है'.

बता दें कि न्यूजीलैंड के क्राइस्टचर्च में जुमे की नमाज के दौरान दो मस्जिदों में हुए हमले में मारे गए 50 लोगों में पांच भारतीय भी शामिल हैं. भारतीय उच्चायोग ने रविवार को इस बात की पुष्टि की कि हमले में पांच भारतीयों की मौत हुई है.

उच्चायोग ने ट्वीट किया, 'अत्यंत दु:ख के साथ हम क्राइस्टचर्च में हुए भयावह आतंकवादी हमले में हमारे पांच नागरिकों की मौत की सूचना दे रहे हैं'. मृतकों की पहचान महबूब खोखर, रमीज वोरा, आसिफ वोरा, अनसी अलीबावा तथा ओजैर कादिर के रूप में हुई है.