Afghanistan आतंकी संगठनों के लिए फिर से न बन पाए पनाहगाह: संयुक्‍त राष्‍ट्र
X

Afghanistan आतंकी संगठनों के लिए फिर से न बन पाए पनाहगाह: संयुक्‍त राष्‍ट्र

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने कहा, मैं सभी पक्षों से विशेष रूप से तालिबान से आग्रह करता हूं कि वे जीवन की रक्षा के लिए अत्यधिक संयम बरतें, और यह सुनिश्चित करें कि मानवीय जरूरतों को पूरा किया जा सके.

Afghanistan आतंकी संगठनों के लिए फिर से न बन पाए पनाहगाह: संयुक्‍त राष्‍ट्र

न्यूयॉर्क: अफगानिस्तान (Afghanistan) में तालिबान के कब्जे के बाद पैदा हुई भयावह स्थिति को लेकर भारत की अध्यक्षता में सोमवार को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (UNSC) की आपात बैठक बुलाई गई. इस दौरान संयुक्त राष्ट्र (UN) महासचिव एंटोनियो गुटेरेस (Antonio Guterres) ने दुनिया के एकजुट होने का आवाहन किया, और कहा कि वह यह सुनिश्चित करे कि अफगानिस्तान आतंकी संगठनों के लिए एक बार फिर पनाहगाह न बनने पाए.'

'युद्धग्रस्त देशों को अकेला नहीं छोड़ सकते'

गुटेरेस ने कहा कि, 'युद्धग्रस्त देश के लोगों को अकेले नहीं छोड़ा जा सकता.' आपको बता दें कि संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की सोमवार को भारत की अध्यक्षता में अफगानिस्तान के हालात पर आपात बैठक हुई जो इस मुद्दे पर एक हफ्ते में हुई सुरक्षा परिषद की दूसरी बैठक है. अगस्त महीने के लिए सुरक्षा परिषद की अध्यक्षता भारत के पास है. तालिबान के रविवार को काबुल में प्रवेश के साथ ही पूरे अफगानिस्तान पर उसका कब्जा हो गया. राजधानी काबुल में घुसकर तालिबान ने राष्ट्रपति भवन पर कब्जा कर लिया और राष्ट्रपति अशरफ गनी को देशी-विदेशी नागरिकों के साथ देश छोड़कर जाना पड़ा. 

ये भी पढ़ें:- LIVE: अफगान मसले पर राष्ट्र को संबोधित करेंगे अमेरिकी राष्ट्रपति Joe Biden

'आतंकवाद को कुचलने के लिए जो कर सकते हैं करें'

गुटेरेस ने सुरक्षा परिषद की बैठक में कहा, ‘विश्व दुखी दिल से अफगानिस्तान में हो रही घटनाओं को देख रहा है और इसे लेकर अनिश्चितता है कि आगे क्या होगा. हम सबने अफरातफरी और अनिश्चितता की तस्वीरें देखी हैं.’ उन्होंने आह्वान किया कि अंतरराष्ट्रीय समुदाय सुनिश्चित करे कि अफगानिस्तान आतंकी संगठनों के लिए एक बार फिर पनाहगाह न बन पाए. गुटेरेस ने यह भी कहा, ‘अफगानिस्तान के लोगों को हम अकेले नहीं छोड़ सकते. मैं सुरक्षा परिषद, अंतरराष्ट्रीय समुदाय से एकजुट होने, मिलकर काम करने और अफगानिस्तान में वैश्विक आतंकवाद को कुचलने के लिए सभी संसाधनों का इस्तेमाल करने और मानवाधिकारों की रक्षा करने की अपील करता हूं.’

ये भी पढ़ें:- मंगलवार को भूलकर भी न करें ये 4 गलतियां, वरना छिन जाएंगी ये खुशियां

हिंसा को तत्काल खत्म करने पर जोर

संयुक्त राष्ट्र महासचिव ने हिंसा को तत्काल खत्म करने और अफगान लोगों के अधिकारों का सम्मान करने का आह्वान किया. उन्होंने तालिबान और सभी पक्षों से अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकार कानून और सभी लोगों की स्वतंत्रता का सम्मान करने को कहा. गुटेरेस ने कहा कि अफगानिस्तान से बहुत ही हृदय विदारक खबरें आ रही हैं.

LIVE TV

Trending news