चीन-फ्रांस सभ्यता संवाद में पेरिस सहमति पारित, प्रस्ताव पेश किया गया

चीन-फ्रांस सभ्यता के संवाद सम्मेलन का आयोजन दोनों देशों की समान इच्छा है. सभ्यताओं में आपसी आवाजाही, वैश्विक चुनौतियों के मुकाबले, विश्व शांति और अनवरत विकास बढ़ाने में चीन और फ्रांस दुनिया के पहले स्थान पर रहे हैं.

चीन-फ्रांस सभ्यता संवाद में पेरिस सहमति पारित, प्रस्ताव पेश किया गया

बीजिंग : पेरिस (Paris) में आयोजित चीन-फ्रांस सभ्यता के संवाद सम्मेलन में 22 अक्टूबर को पेरिस सहमति पारित की गई और प्रस्ताव पेश किया गया. प्रस्ताव में कहा गया है कि संस्कृति और सभ्यता मानव समाज का विकास बढ़ाने और मानव समुदाय के साझे भविष्य का निर्माण करने की अक्षय शक्ति हैं. चीन-फ्रांस सभ्यता के संवाद सम्मेलन का आयोजन दोनों देशों की समान इच्छा है. सभ्यताओं में आपसी आवाजाही, वैश्विक चुनौतियों के मुकाबले, विश्व शांति और अनवरत विकास बढ़ाने में चीन और फ्रांस दुनिया के पहले स्थान पर रहे हैं.

LIVE TV...

प्रस्ताव में कहा गया कि चीन (China) और फ्रांस (France) पूर्वी और पश्चिमी सभ्यता के प्रतिनिधि होने के नाते सभ्यताओं की नस्ल बनाए रखते हैं, बहुपक्षवाद का समर्थन करते हैं और विश्व शासन व्यवस्था में सुधार करते हैं. चीन और फ्रांस विश्व शांति और स्थिरता सुनिश्चित करने और मानव सभ्यता का विकास बढ़ाने की महत्वपूर्ण शक्तियां बन गए हैं.

प्रस्ताव में आशा जताई गई कि सम्मेलन का फायदा उठाकर नियमित समय पर चीन-फ्रांस सभ्यता का संवाद किया जाएगा और लोगों के बीच आदान-प्रदान मजबूत किया जाएगा.

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.