हैकरों का ब्रिटेन में सांसदों पर नया हमला, पासवर्ड का खुलासा करने के लिए जाल में फंसाने की कोशिश

नेताओं को आगाह किया गया है कि हैकर खुद को संसदीय अधिकारी बताकर उनके पासवर्ड जानने की कोशिश कर सकते हैं.

हैकरों का ब्रिटेन में सांसदों पर नया हमला, पासवर्ड का खुलासा करने के लिए जाल में फंसाने की कोशिश
पिछले सप्ताह 12 घंटे तक के हमले के बाद हैकरों ने फिर से निशाना बनाने का प्रयास किया है.

लंदन: ब्रिटेन की संसद नए सिरे से साइबर हमले की निशाना बनी है जब हैकरों ने सांसदों को उनके पासवर्ड का खुलासा करने के लिए अपने जाल में फंसाने की कोशिश की. अधिकारियों ने सांसदों और उनके सहायकों से कहा है कि वे इस तरह के खतरों से सावधान रहें. नेताओं को आगाह किया गया है कि हैकर खुद को संसदीय अधिकारी बताकर उनके पासवर्ड जानने की कोशिश कर सकते हैं. सांसदों और उनके कर्मचारियों को भेजे गए चेतावनी संदेश में कहा गया है, 'इस दोपहर में हमें पता चला कि संसद से जुड़े लोगों को फोन किया जा रहा है और उनके यूजरनेम और पासवर्ड पूछा जा रहा है.' 

समाचार पत्र 'द संडे टेलीग्राफ' के अनुसार संदेश में कहा गया है, 'फोन करने वाले लोग यूजर्स को यह सूचना दे रहे हैं कि उनको डिजिटल सेवा की तरफ से लगाया गया है कि साइबर हमले से मदद की जाए. ये फोन कॉल डिजिटल सेवा के नहीं हैं. हम कभी से पासवर्ड बताने के लिए नहीं कहेंगे.'

संसदीय अधिकारियों ने कहा कि पिछले सप्ताह 12 घंटे तक के हमले के बाद हैकरों ने फिर से निशाना बनाने का प्रयास किया है. सुरक्षा सूत्रों ने बताया कि हाल के समय का यह सबसे बड़ा साइबर हमला है. साइबर हमले से जो नेटवर्क प्रभावित हुआ है उसका इस्तेमाल प्रधानमंत्री टेरीजा मे, उनकी कैबिनेट के मंत्रियों तथा सांसदों ने किया.