पाकिस्तान में हादसा: दुर्घटना से पहले MayDay, MayDay क्यों चिल्लाया पायलट?

पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस (पीआईए) का एक यात्री विमान शुक्रवार को जिन्ना अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे के पास दुर्घटनाग्रस्त हो गया. विमान लाहौर से कराची जा रहा था.

पाकिस्तान में हादसा: दुर्घटना से पहले MayDay, MayDay क्यों चिल्लाया पायलट?
हादसे के बाद उठता धुएं का गुबार

इस्लामाबाद: पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस (पीआईए) का एक यात्री विमान शुक्रवार को जिन्ना अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे के पास दुर्घटनाग्रस्त हो गया. विमान लाहौर से कराची जा रहा था. लैंडिंग से पहले विमान रिहायशी इलाके मॉडल टाउन में जा गिरा, हादसे में 98 लोगों की मौत की पुष्टि हो चुकी है. दुर्घटना से पहले पायलट और एयर ट्रैफिक कंट्रोल के बीच हुई बातचीत सामने आई है. जिससे पता चलता है कि पायलट विमान में खराबी की बात करते हुए सहायता मांग रहा था, लेकिन अचानक विमान लैंड करने के बजाय रिहायशी इलाके में जा गिरा. 

पाकिस्तान के प्रमुख मीडिया संस्थान Dawn के मुताबिक, पायलट ने एयर ट्रैफिक कंट्रोल से विमान में खराबी की बात कही थी. जिसके जवाब में एयर ट्रैफिक कंट्रोल की तरफ से पायलट को विमान घुमाकर को लैंड करने को कहा गया. विमान को लैंड कराने के लिए दोनों रनवे उपलब्ध थे, लेकिन अचानक पायलट MayDay, MayDay, MayDay कहने लगा और विमान मॉडल टाउन में जाकर क्रैश हो गया. कहा जा रहा है कि पायलट विमान को लैंड कराने से महज कुछ सेकंड दूर था, मगर प्रयास में सफल नहीं हो सका. एयर ट्रैफिक कंट्रोल भी यह समझ नहीं पा रहा है कि जब सब कुछ ठीक जा रहा था, तो अचानक पायलट MayDay क्यों चिल्लाने लगा. गौरतलब है कि मुश्किल में मदद मांगने के लिए MayDay शब्द इस्तेमाल किया जाता है.

पाकिस्तान में विमान क्रैश, हादसे में 98 लोगों की मौत, लाहौर से कराची जा रहा था प्लेन

WATCH: VIDEO

राष्ट्रीय विमानन कंपनी के एक प्रवक्ता ने कहा कि पीआईए एयरबस ए320 में 99 यात्री और चालक दल के सात सदस्य सवार थे. विमान हवाईअड्डे के निकट जिन्ना आवासीय सोसाइटी में दुर्घटनाग्रस्त हुआ. उन्होंने कहा, "कैप्टन ने एयर ट्रैफिक टॉवर को सूचित किया कि उसे विमान के लैंडिंग गियर में कुछ गड़बड़ी लग रही है और इसके बाद विमान रडार से गायब हो गया." 

जिस जगह यह दुर्घटना हुई वहां कुछ घरों और कारों को नुकसान पहुंचा है. बचावकर्मी व पुलिस अधिकारियों ने पुष्टि की है कि बर्बाद हुए घरों से अब तक कई शव मिल चुके हैं जबकि कई घायलों को अस्पताल ले जाया गया है. सीएए ने कहा कि पाकिस्तानी सेना और वायु सेना ने बचाव और राहत अभियान में मदद के लिये अपने दल भेजे हैं. पीआईए का विमान कैप्टन सज्जाद गुल उड़ा रहे थे.