आजकल आप इस शब्‍द का रोज करते हैं कम से कम 5 बार इस्‍तेमाल, बना वर्ड ऑफ द ईयर
X

आजकल आप इस शब्‍द का रोज करते हैं कम से कम 5 बार इस्‍तेमाल, बना वर्ड ऑफ द ईयर

‘ऑक्सफोर्ड’ अंग्रेजी डिक्शनरी को प्रकाशित करने वाले लोगों ने वर्ष के शब्द के रूप में ‘वैक्स’ का चयन किया था. वहीं, ‘मरियम-वेबस्टर’ ने पिछले साल ‘पैनडेमिक’ शब्द का चयन किया था, जो उसकी ऑनलाइन साइट पर सबसे अधिक खोजा गया.

आजकल आप इस शब्‍द का रोज करते हैं कम से कम 5 बार इस्‍तेमाल, बना वर्ड ऑफ द ईयर

न्यूयॉर्क: कोरोना काल में हम सभी को जिस एक चीज की सबसे ज्यादा जरूरत थी वह कोरोना के खिलाफ लड़ने वाली वैक्सीन (Vaccine) थी. लेकिन अब दुनिया के तमाम देशों में कई वैक्सीन बनकर तैयार हो चुकी हैं और लोगों की जान बचाने का काम कर रही हैं. यह वजह रही कि साल 2021 को लिए ‘मरियम वेबस्टर’ (Merriam Webster) डिक्शनरी ने ‘वैक्सीन’ को वर्ड ऑफ द ईयर (Word of the Year) चुना है.

सभी की लाइफ पर पड़ा असर

‘मरियम वेबस्टर’ के एडिटर-एट-लार्ज पीटर सोकोलोवस्की ने बताया, ‘साल 2021 में यह शब्द हम सभी के जीवन में सबसे अधिक मौजूद रहा. यह दो अलग-अलग कहानी बयां करता है. एक साइंस से जुड़ी, जो उस उल्लेखनीय गति को बयां करती है, जिससे वैक्सीन का निर्माण किया गया. साथ ही पॉलिसी, पॉलिटिक्स और राजनीतिक संबद्धता को लेकर भी इसके संबंध में चर्चा जारी है. यह एक शब्द है, जो दो बड़ी कहानियां बयां करता है.’

‘ऑक्सफोर्ड’ अंग्रेजी डिक्शनरी (Oxford English Dictionary) को प्रकाशित करने वाले लोगों ने वर्ष के शब्द के रूप में ‘वैक्स’ का चयन किया था. वहीं, ‘मरियम-वेबस्टर’ ने पिछले साल ‘पैनडेमिक’ (Pandemic) शब्द का चयन किया था, जो उसकी ऑनलाइन साइट पर सबसे अधिक खोजा गया. सोकोलोवस्की ने कहा कि ‘पैनडेमिक’ अब पीछे छूटता जा रहा है और हम अब उसके प्रभावों को देख रहे हैं.

एक हजार फीसदी बढ़ी सर्च

उन्होंने बताया कि अमेरिका में दिसंबर में कोरोना वैक्सीन की पहली डोज दिए जाने के बाद ‘मरियम वेबस्टर’ पर ‘वैक्सीन’ को 601 फीसदी ज्यादा खोजा गया. साल 2019 में, जब वैक्सीन के बारे में बहुत कम बात हो रही थी, उसकी की तुलना ‘मरियम-वेबस्टर’ पर इस साल ‘वैक्सीन’ शब्द को 1,048 फीसदी ज्यादा खोजा गया.

ये भी पढ़ें: सेक्‍स डॉल ने चुरा लिया चेहरा, बदन, ब्‍यूटी मार्क; मॉडल ने शेयर की स्‍टोरी

सोकोलोवस्की ने कहा कि असमान वितरण, वैक्सीन अनिवार्यता और ‘बूस्टर’ डोज पर बहस के कारण भी इस शब्द में लोगों की रुचि बढ़ी है. साथ ही, वैक्सीन लगाने को लेकर लोगों में संकोच (Vaccine Hesitancy) को लेकर भी इसकी लोकप्रियता बढ़ी है.

Trending news