तानाशाह किम जोन उन की बीमारी के बीच नॉर्थ कोरिया ने सीमा पर फौजी गतिविधियां बढ़ाईं

उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग (Kim Jong-un) के बीमार होने की खबरों के बीच सैन्य गतिविधियों में अचानक आई तेजी ने सभी को हैरान कर दिया है.  

तानाशाह किम जोन उन की बीमारी के बीच नॉर्थ कोरिया ने सीमा पर फौजी गतिविधियां बढ़ाईं

नई दिल्ली: उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग (Kim Jong-un) के बीमार होने की खबरों के बीच सैन्य गतिविधियों में अचानक आई तेजी ने सभी को हैरान कर दिया है. खासकर दक्षिण कोरिया में इस बदलाव को लेकर बेचैनी है. रक्षा मंत्री जियोंग कियोंग-डो (Jeong Kyeong-doo) का कहना है कि जिस तरह से उत्तर कोरिया ने सैन्य गतिविधियों में तेजी दिखाई है वह असामान्य है. मालूम हो कि कम्युनिस्ट देश उत्तर कोरिया ने छोटे पैमाने पर तोपखाने फायरिंग ड्रिल (smaller-scale artillery firing drills) के अलावा, इस साल पांच बड़े हथियारों का परीक्षण किया है. जिसमें से आखिरी पिछले सप्ताह हुआ था, इस दौरान उत्तर कोरिया ने गोलीबारी की, जो उसके पूर्व तट की सतह से दिखाई दी.

न्यूज एजेंसी योनहैप (Yonhap) ने जियोंग के हवाले से बताया कि उत्तर कोरिया अपनी युद्ध तत्परता मुद्रा के लिए निरीक्षण गतिविधियों में असामान्य वृद्धि करके सैन्य तनाव को बढ़ा रहा है. खासकर उसके तोपखानों और लड़ाकू विमानों के संचालन में एकदम से तेजी देखी गई है, जो पूरी तरह असामान्य है.  

दक्षिण कोरिया के रक्षामंत्री के मुताबिक, उत्तर कोरिया ने पूर्वी तटीय शहर वॉनसन के ऊपर सुखोई-वैरिएंट फाइटर जेट्स और मिग जैसे विमानों को भी उड़ाया और पूर्वी सागर में कई एयर-टू-ग्राउंड मिसाइल दागे. एक संयुक्त चीफ ऑफ स्टाफ ऑफिसर ने पहले भी कहा था कि येलो सागर (Yellow Sea) के ऊपर चीन की सीमांकन रेखा के पास उत्तर कोरिया की निगरानी गतिविधियों में वृद्धि हुई है. गौरतलब है कि तानाशाह किम जोंग की तबीयत पिछले कुछ समय से खराब चल रही है. हालांकि, यह स्पष्ट नहीं है कि उन्हें हुआ क्या है. ऐसे में उत्तर कोरिया का सैन्य गतिविधियों में तेजी लाना कई सवालों को जन्म देता है.