NASA ने स्पेसएक्स का ‘नो लोड’ परीक्षण फिलहाल टाला

अब यह परीक्षण 2 मार्च को केप कैनावेरल में हो सकती है. 

NASA ने स्पेसएक्स का ‘नो लोड’ परीक्षण फिलहाल टाला
नासा ने अंतरिक्ष यात्रियों को भेजने की जिम्मेदारी स्पेसएक्स और बोइंग को दी है. (फाइल फोटो)

वॉशिंगटन: अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने घोषणा की कि स्पेसएक्स का भार रहित (नो लोड) रॉकेट परीक्षण टाल दिया गया है और अब यह दो मार्च को फ्लोरिडा के केप कैनावेरल में होगा. 

नासा ने अंतरिक्ष यात्रियों को भेजने की जिम्मेदारी स्पेसएक्स और बोइंग को दी है. मानवों को अंतरिक्ष में भेजने की शुरुआत इस साल से ही की जाएगी. स्पेसएक्स अपने फाल्कन 9 रॉकेट का इस्तेमाल करेगा जिसके शीर्ष पर एक ड्रैगन कैप्सूल स्थापित किया गया है जिसे अंतरिक्ष यात्रियों को इसमें बिठा सकने के लिए विशेष तौर पर डिजाइन किया गया है. यह कैप्सूल अंतरिक्ष यात्रियों को अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष केंद्र तक ले जाने के लिए तैयार किया गया है. 

हालांकि मानव को बिठाकर अंतरिक्ष यान को भेजने से पहले स्पेसएक्स को बिना भार के यान भेजने वाला मिशन पूरा करना होगा. पहले यह परीक्षण जनवरी की शुरुआत में होना था और दो मार्च की तिथि भी पूरी तरह पक्की नहीं है. किसी भी तरह की तकनीकी गड़बड़ी से परीक्षण की तिथि टल सकती है. 

अगर सब कुछ ठीक रहा तो पहला मानवयुक्त यान जुलाई 2019 में भेजा जाएगा. वहीं बोइंग लोड रहित परीक्षण अप्रैल से पहले नहीं कर पाएगा जबकि उसका मानवयुक्त मिशन अगस्त में शुरू होने वाला है.

(इनपुट भाषा से)