New Zealand में 12 से 15 साल के बच्चों के लिए Pfizer Vaccine को मंजूरी, इन दो वजहों से किया गया फैसला

मेडसेफ द्वारा बच्चों में टीकाकरण का अप्रूवल ठोस आंकड़ों पर आधारित है जो दर्शाता है कि टीका इस आयु वर्ग के लिए सुरक्षित और अत्यधिक प्रभावी है. 

New Zealand में 12 से 15 साल के बच्चों के लिए Pfizer Vaccine को मंजूरी, इन दो वजहों से किया गया फैसला

क्राइस्टचर्च (न्यूजीलैंड): न्यूजीलैंड के दवा नियामक मेडसेफ ने 12 से 15 वर्ष की आयु के बच्चों के लिए फाइजर वैक्सीन को तात्कालिक मंजूरी दे दी है. प्रधानमंत्री जैसिंडा अर्डर्न को अगले सप्ताह इसे कैबिनेट की मंजूरी मिलने की उम्मीद है, जिसके बाद 12-15 वर्ष के बच्चे अपनी बारी आने पर टीका लगवा सकेंगे.

इन वजहों से टीका लगाना जरूरी

यहां बता दें कि बच्चों को कोविड-19 से गंभीर बीमारी या मृत्यु का जोखिम वृद्ध लोगों की तुलना में कम होता है, फिर भी दो कारणों से उन्हें टीका लगाना आवश्यक है.

पहला, यदि बच्चे वायरस से संक्रमित होते हैं तो वे इसे अन्य लोगों में फैला सकते हैं, जिनमें उच्च जोखिम वाले समूह या ऐसे लोग शामिल हैं जिन्हें चिकित्सा कारणों से टीका नहीं लगाया जा सकता है. कई देशों ने देखा कि कम उम्र के लोगों में इस बीमारी का प्रकोप शुरू हुआ और यह बड़ी उम्र के लोगों में फैल गया, जिससे अस्पताल में भर्ती होने और मृत्यु तक की नौबत आ गई.

दूसरा, बच्चों में बीमारी से मौत का जोखिम भले ही बहुत कम है, फिर भी बच्चों को कोविड-19 के परिणामस्वरूप दीर्घकालिक स्वास्थ्य जटिलताओं का सामना करना पड़ सकता है, जिसे अक्सर लॉन्ग कोविड के रूप में जाना जाता है. ऐसा देखा गया है कि कम उम्र के लोगों का एक बड़ा वर्ग इससे प्रभावित हुआ है.

मेडसेफ द्वारा बच्चों में टीकाकरण का अप्रूवल ठोस आंकड़ों पर आधारित है जो दर्शाता है कि टीका इस आयु वर्ग के लिए सुरक्षित और अत्यधिक प्रभावी है. यह यूरोप, अमेरिका और कनाडा में इसी तरह के कदमों का अनुसरण है. एक्सपर्ट्स का कहना है कि किशोरों का टीकाकरण करने से उनके बीमार होने और दूसरों में वायरस फैलाने का खतरा कम हो जाता है.

बच्चों के लिए न्यूज़ीलैंड की नई टीकाकरण योजना

न्यूजीलैंड में, 265,000 बच्चे 12-15 आयु वर्ग में हैं, जो कुल जनसंख्या के 5% से अधिक है. इसे उन 80% में जोड़ें जो 16 वर्ष से अधिक उम्र के हैं, तो इसका यह मतलब है कि फाइजर वैक्सीन को अब 85% आबादी में उपयोग के लिए मेडसेफ की मंजूरी मिल गई है. यह अच्छी खबर है क्योंकि जनसंख्या प्रतिरक्षा तक पहुंचने के लिए हमें वास्तव में ज्यादा से ज्यादा लोगों के टीकाकरण की आवश्यकता होगी.

छह से 11 वर्ष की आयु के बच्चों के लिए टीका उपयुक्त है या नहीं, इसका आकलन करने के लिए परीक्षण चल रहे हैं. स्वास्थ्य महानिदेशक एशले ब्लूमफील्ड ने कहा कि परीक्षण के परिणाम उपलब्ध होने पर मेडसेफ इन पर विचार करेगा.

साल के अंत तक सभी को वैक्सीन लगाने की योजना 

इस समय न्यूजीलैंड को दुनिया भर के देशों से कोविड-19 के संक्रमण का खतरा है और टीकाकरण से उस खतरे को कम किया जा सकता है. यही कारण है कि सरकार ने साल के अंत तक सभी को वैक्सीन लगाने की योजना बनाई है.

अर्डर्न ने कहा कि न्यूजीलैंड ने फाइजर वैक्सीन के पहले से जो ऑर्डर दिए हुए हैं, उससे 12-15 वर्ष के बच्चों को दो खुराक देने के लिए पर्याप्त खुराक मिल सकेंगी.

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.