PHOTOS: कोरोना ने यहां प्यार करने वालों को किया जुदा, अब ऐसे मिलने को हैं मजबूर

वायरस ने कई जगह प्यार करने वाले लोगों को अलग-अलग भी कर दिया है.

ज़ी न्यूज़ डेस्क | Apr 06, 2020, 13:43 PM IST

जानलेवा कोरोना वायरस (Coronavirus) के कहर की वजह से जहां एक तरफ दुनिया में लोग मर रहे हैं. वहीं दूसरी तरफ इस वायरस ने कई जगह प्यार करने वाले लोगों को अलग-अलग भी कर दिया है. ऐसी ही कुछ तस्वीरें जर्मनी और स्विट्जरलैंड के बॉर्डर से आई हैं. तस्वीरों में देखिए कैसे लोग एक दूसरे से मिल रहे हैं.

(इनपुट- WION)

1/5

पहले एक-दूसरे की सीमा में जाकर मिलते थे लोग

Lake Constance

पहले Lake Constance के किनारे के एक पार्क में स्विट्जरलैंड और जर्मनी के लोग आम तौर पर बॉर्डर पर एक अदृश्य रेखा के निशान को पार करके एक-दूसरे की सीमा में जाकर मिलते-जुलते थे. लेकिन अब सब कुछ बदल गया है. (फोटो साभार: Reuters)

2/5

तारों के दोनों किनारों पर खड़े होकर मिलने को मजबूर

Fence

अब प्रेमी-प्रेमिका, भाई-बहन या फिर माता-पिता और बच्चे इन तारों के दोनों ओर खड़े होकर बात करते हैं. (फोटो साभार: Reuters)

3/5

फोन से ज्यादा आमने-सामने मिलना है पसंद

Avoid Phones

लोग फोन या किसी दूसरे डिवाइस को छोड़कर यहां एक-दूसरे से आमने-सामने मिलकर बातें करना ज्यादा पसंद कर रहे हैं. (फोटो साभार: Reuters)

4/5

कोरोना ने दूसरे विश्वयुद्ध की याद दिलाई

Second World War

यह कोरोना वायरस No-man's land है. इससे पहले यहां पर तार दूसरे विश्वयुद्ध के वक्त लगाए गए थे लेकिन बहुत पहले ही ये तार यहां से हटाए जा चुके थे. (फोटो साभार: Reuters)

5/5

पहले जर्मनी के लोग बिना किसी रुकावट के स्विट्जरलैंड में जा सकते थे

Germany

कोरोना की वजह से लोगों को तारों दूसरी तरफ खड़े होकर एक-दूसरे से मिलना पड़ रहा है. इसके पहले यूरोप के लोग बिना किसी रुकावट या वीजा के स्विट्जरलैंड में जा सकते थे और वहां से लोग इधर भी आ सकते थे. हालांकि स्विट्जरलैंड यूरोपियन यूनियन का हिस्सा तो नहीं है लेकिन स्विट्जरलैंड की सरकार से एक समझौते के तहत यूरोप के लोग वहां जा सकते हैं. (फोटो साभार: Reuters)