ब्रिटेन: वेश्याओं को रेप के बाद लूटा, 1 'भूल' की वजह से फंसे; मिली 33 साल की जेल

ज़ी न्यूज़ डेस्क | Apr 07, 2021, 23:18 PM IST
1/6

वेश्यालय में गैंगरेप

वेश्यालय में गैंगरेप

लंदन: ब्रिटेन में एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है, जिसमें एडमिल्सन कैमांक्वे (23) और डेविड फोंसेका (27) नाम के हैवानों ने एक वेश्यालय में अपनी हैवानियत दिखाई. उन्होंने न सिर्फ दो वेश्याओं के साथ रेप किया, बल्कि उनसे उनकी दिन भर की कमाई भी छीन कर भाग गए. यही नहीं, दोनों ने दोनों ही वेश्याओं को जान से मारने की धमकी भी दी. 

 

2/6

कुल्हाड़ी से काट डालने का दिखाया डर

कुल्हाड़ी से काट डालने का दिखाया डर

दोनों दरिंदे वेश्यालय में घुस गए और उन्होंने कुल्हाड़ी से शरीर के टुकड़े-टुकड़े करने की धमकी दी और दो महिलाओं के साथ रेप को अंजाम दिया. इस दौरान उनके पास एक चाकू भी था. ये वारदात नॉर्थ ईस्ट लंदन की है, जिन्हें चार लोगों ने अंजाम दिया था. एक तीसरे आरोपी का नाम मेंडेस-नैम्जा-उएरे(23) है, जबकि चौथे की पहचान नहीं हो पाई. वो हॉकी स्टिक लेकर वेश्यालय में घुसा था. 

3/6

मेंडेस-नैम्जा-उएरे को थी वेश्यालय के बारे में जानकारी

मेंडेस-नैम्जा-उएरे को थी वेश्यालय के बारे में जानकारी

मेंडेस-नैम्जा-उएरे उसी वेश्यालय में पहले सिक्योरिटी गार्ड का काम करता था. उसे पता था कि सीसीटीवी कैमरे कहां लगे हैं और हथियार को कहां छिपाना है. लेकिन अब इस मामले में कोर्ट ने अपना फैसला सुना दिया है. 

4/6

वुड ग्रीन क्राउन कोर्ट ने दी सख्त सजा

वुड ग्रीन क्राउन कोर्ट ने दी सख्त सजा

लंदन के वुड ग्रीन क्राउन कोर्ट ने इस मामले में सुनवाई पूरी करने के बाद सजा का ऐलान किया, जिसमें एडमिल्सन और फोंसेका को 33 साल जेल की सजा सुनाई है. 

5/6

क्लीनिक में जाने के बाद दर्ज हुआ मामला

क्लीनिक में जाने के बाद दर्ज हुआ मामला

इन चारों ने वेश्यालय में घुसकर वारदात को अंजाम दिया और फरार हो गए, जिसके बाद पीड़ित महिलाएं पास के क्लीनिक पर पहुंची. जहां डॉक्टर ने उनकी खराब हालत देखी, इसके बाद पुलिस को सूचना दी गई. हालांकि सभी बदमाश फरार होते समय सीसीटीवी सिस्टम और कैमरा भी साथ ले गए. 

 

6/6

कंडोम और फिंगरप्रिंट से पुलिस ने पकड़ा

कंडोम और फिंगरप्रिंट से पुलिस ने पकड़ा

सभी फरार बदमाशों को पुलिस ने उनके द्वारा इस्तेमाल किए गए कंडोम और उनके फिंगरप्रिंट से पकड़ा. जो वहीं छूट गया था. बाद में महिला ने कोर्ट में बताया कि उसने इन लोगों से ज्यादा हिंसक व्यक्ति नहीं देखे. अब वो अकेले कहीं बाहर भी नहीं जा पाती और पूरे दिन घर में ही पड़ी रहती है. बता दें कि ब्रिटेन में वेश्यावृत्ति को कानूनी स्वीकृति है.