BREAKING NEWS

पिता ने पार की हैवानियत की सारी हदें, महज 39 दिन के बच्चे की तोड़ दी 71 हड्डियां

इंग्लैंड में एक दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है, जहां एक पिता ने हैवानियत का सारी हदें पर कर दी और 39 दिन के मासूम बेटे को इतनी तेजी से झकझोरा कि उसकी 71 हड्डियों में फ्रैक्चर हो गया. इसके बाद बच्चे की मौत हो गई. अब कोर्ट ने 31 साल के हैवान बाप जेम्स क्लार्क (James Clark) को हत्या का दोषी पाया है और सजा सुनाई है.

ज़ी न्यूज़ डेस्क | Sep 27, 2021, 07:35 AM IST
1/5

कोर्ट ने दी उम्रकैद की सजा

Court sentenced life imprisonment

घटना ब्रिटेन के साउथ ग्लूस्टरशायर (South Gloucestershire) के वार्मली (Warmley) की है, जहां 31 साल के जेम्स क्लार्क (James Clark) ने अपने 39 दिन के बेटे की 71 हड्डियों तोड़ दी. अब कोर्ट ने मासूम की हत्या के मामले में क्लार्क को उम्रकैद की सजा सुनाई है और उसे कम से कम 15 साल जेल की सजा काटने का आदेश दिया है.

2/5

3 साल पुराना है मामला

3 year old case

डेलीमेल की रिपोर्ट के अनुसार, मामला तीन साल पुराना है और जनवरी 2018 में जेम्स क्लार्क (James Clark) ने अपने बेटे शॉन क्लार्क को बिस्तर पर सुलाने से पहले ऐसा झकझोरा कि उसके सीने की हड्डियों में 71 जगहों पर फ्रैक्चर हो गया और उसकी मौत हो गई.

3/5

सिर से निकलने लगा था खून

head injuries consistent

जेम्स क्लार्क (James Clark) ने रात को अपने बेटे को अपनी बिस्तर पर सुला दिया और फिर खुद सोने चला गया. हादसे के बाद मासूम के सिर से खून निकलने लगा और उसकी मौत हो गई. बच्चे की मां हेलेन जेरेमी का कहना है कि अगली सुबह अपने बेटे को मरा हुआ पाया था.

4/5

पोस्टमार्टम में हुआ खुलासा

Revealed in post-mortem

बच्चे की मौत के बाद शव का पोस्टमार्टम किया गया और पता चला कि बच्चे शॉन क्लार्क को उसके पिता ने कम से कम तीन बार हमला किया था, जिसके बाद उसके शरीरी की 71 हड्डियां टूट गई थीं. पोस्टमार्टम रिपोर्ट में इस बात का भी खुलासा हुआ कि बच्चे के सिर पर चोट लगी थी, जिसके बाद खून निकला था.

5/5

कोर्ट ने बताया हैवानियत का मामला

Court told the matter of humility

मुकदमा चलाने वाले जेन ओसबोर्न क्यूसी ने कोर्ट को बताया, 'जेम्स क्लार्क (James Clark) ने अपने बेटे को तेजी झकझोरा, जिससे छाती की हड्डियों में फ्रैक्चर हो गया. उसने बच्चे को काफी तेजी से हिलाया था, जिससे उसके सिर से खून बह गया और यह घातक घटना थी. जेम्स को सजा सुनाते हुए जज ने कहा, 'हत्या का हर अपराध न केवल एक जीवन को समाप्त करता है, बल्कि दूसरों को गंभीर रूप से प्रभावित करता है और यह एक हैवानियत का मामला है.'