मिलिट्री एकेडमी ने किया स्वीकार, डोनाल्ड ट्रंप के अकादमिक रिकॉर्ड छिपा लिए थे

 डोनाल्ड ट्रंप लगातार यह दावे करते रहे हैं कि बचपन में वह एक शानदार छात्र थे.

मिलिट्री एकेडमी ने किया स्वीकार, डोनाल्ड ट्रंप के अकादमिक रिकॉर्ड छिपा लिए थे
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (फाइल फोटो साभार - रॉयटर्स)

वाशिंगटन: अमेरिका की एक मिलिट्री एकेडमी ने कहा है उसने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की किशोरावस्था के दौरान के उनके अकादमिक रिकार्ड 2011 में छिपा लिए थे और ट्रंप के सहयोगियों के दबाव के चलते ऐसा किया गया था. वाशिंगटन पोस्ट की एक खबर में यह दावा किया गया है.

दरअसल, ट्रंप ने तत्कालीन राष्ट्रपति बराक ओबामा को अपना शैक्षणिक रिकार्ड सार्वजनिक करने की चुनौती दी थी, जिसके बाद न्यूयार्क मिलिट्री एकेडमी इस तरह के दबाव में आ गई थी. ट्रंप ने कहा था कि उन्हें हैरत है कि ऐसा ‘भयंकर छात्र’ आइवी लीग स्कूल में था. 

उस वक्त इस सैन्य संस्थान के हेडमास्टर रहे इवान जोंस ने अखबार से कहा कि निजी स्कूल के अधीक्षक काफी डरे सहमे हुए मेरे पास आए क्योंकि उनसे स्कूल के पूर्व छात्र एवं ट्रंप के दोस्तों ने बात की थी और उनके अकादमिक रिकार्ड गुप्त रखने को कहा था. अखबार में यह खबर मंगलवार को प्रकाशित हुई है. 

गौरतलब है कि ट्रंप लगातार यह दावे करते रहे हैं कि बचपन में वह एक शानदार छात्र थे. उस वक्त स्कूल के अधीक्षक या निदेशक रहे जेफरी कोवरडेल ने अखबार को बताया कि उन्होंने ट्रंप का रिकार्ड सौंपने के स्कूल के ट्रस्टी बोर्ड का अनुरोध खारिज कर दिया था. 

ट्रंप ने सैन्य स्कूल में पांच साल बिताए थे. उनके मुताबिक उनके माता-पिता उन्हें अनुशासित बनाना चाहते थे.