'ये उत्तर कोरिया नहीं अमेरिका है, आपको व्हाइट हाउस से जाना ही पड़ेगा मिस्टर ट्रंप!'

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को अपने उस बयान के लिए तीखी प्रतिक्रिया झेलनी पड़ रही है, जिसमें उन्होंने चुनाव हारने की सूरत में शांतिपूर्ण तरीके से सत्ता हस्तांतरण के पक्ष में न रहने की बात कही थी.

'ये उत्तर कोरिया नहीं अमेरिका है, आपको व्हाइट हाउस से जाना ही पड़ेगा मिस्टर ट्रंप!'
अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (फाइल फोटो)

वॉशिंगटन: अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को अपने उस बयान के लिए तीखी प्रतिक्रिया झेलनी पड़ रही है, जिसमें उन्होंने चुनाव हारने की सूरत में शांतिपूर्ण तरीके से सत्ता हस्तांतरण के पक्ष में न रहने की बात कही थी. जिसके बाद उन्हें अमेरिका की दोनों राजनीतिक पार्टियों डेमोक्रेटिक के साथ ही रिपब्लिकन पार्टी के नेताओं की भी आलोचना झेलनी पड़ रही है.

ये अमेरिका है, उत्तर कोरिया नहीं: नैंनी पेलोसी
डेमोक्रेटिक हाउस स्पीकर नैंनी पेलोसी डोनाल्ड ट्रंप की कट्टर विरोधी मानी जाती हैं. उन्होंने डोनाल्ड ट्रंप को याद दिलाते हुए कहा कि मिस्टर प्रेसिडेंट, ये उत्तर कोरिया नहीं है, जहां तानाशाही चलती हो. न ही आप तुर्की में हैं और न ही रूस में.

तय नियमों के तहत हो सत्ता का हस्तांतरण
रिपब्लिकन सीनेट स्पीकर मिच मैक्कॉनेल (Mitch McConnell) ने कहा कि अमेरिकी जनता के हित में यही होगा कि चुनावी नतीजों को ज्यों का त्यों मान लिया जाए. ताकि जनवरी 2021 में चुनाव जीतने वाले उम्मीदवार को सत्ता सौंपी जा सके. जोकि तय नियम हैं. मैक्कॉनेल डोनाल्ड ट्रंप के सहयोगी हैं, लेकिन इस मुद्दे पर उन्होंने ट्रंप के उलट विचार रखे हैं.

ट्रंप को संविधान का आदर करना चाहिए: बर्नी सैंडर्स
डोनाल्ड ट्रंप के एक अन्य विरोधी बर्नी सैंडर्स (Bernie Sanders) ने कहा कि डोनाल्ड ट्रंप को संविधान का आदर करना चाहिए.

चुनाव हारने की सूरत में सत्ता के हस्तांतरण पर हिचकिचा रहे हैं डोनाल्ड ट्रंप
गौरतलब है कि व्हाइट हाउस में दो दिन पहले जब ट्रंप से सवाल किया गया कि चुनाव में हार मिलने की स्थिति में क्या वह व्हाइट हाउस शांतिपूर्वक छोड़ देंगे? इसके जवाब में ट्रंप ने कहा, ‘हम देखेंगे कि क्या होता है.’ ट्रंप ने कहा, ‘मैं ईमेल या डाक के जरिए मतदान को लेकर लगातार शिकायत करता रहा हूं और यह अनर्थ है.’ उनसे पूछा गया था, ‘राष्ट्रपति जी, चुनाव के परिणाम चाहे जो भी हों, भले ही जीत हो, हार हो या मुकाबला बराबरी का रहे, क्या आप चुनाव के बाद सत्ता के शांतिपूर्ण हस्तांतरण का आज यहां वादा करते हैं?’ लेकिन ट्रंप ने इसका कोई जवाब नहीं दिया था, जिसके बाद तमाम वरिष्ठ राजनेताओं ने उनपर निशाना साधा.

Video-