सीरिया संकट पर रूस और ईरान के साथ काम करने का इच्छुक है अमेरिका: ओबामा

सीरिया में गृहयुद्ध के संकट के समाधान की जरूरत पर जोर देते हुए अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने आज कहा कि अमेरिका सीरियाई नेता बशर अल असद को सत्ता से हटाने के लिए ‘सफल परिवर्तन’ को हासिल करने की खातिर रूस और ईरान के साथ मिलकर काम करने का इच्छुक है।

सीरिया संकट पर रूस और ईरान के साथ काम करने का इच्छुक है अमेरिका: ओबामा

संयुक्त राष्ट्र : सीरिया में गृहयुद्ध के संकट के समाधान की जरूरत पर जोर देते हुए अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने आज कहा कि अमेरिका सीरियाई नेता बशर अल असद को सत्ता से हटाने के लिए ‘सफल परिवर्तन’ को हासिल करने की खातिर रूस और ईरान के साथ मिलकर काम करने का इच्छुक है।

ओबामा ने संयुक्त राष्ट्र महासभा में अपने वाषिर्क संबोधन के दौरान कहा कि ‘सीरिया युद्ध के पहले की स्थिति में नहीं लौट सकता’। अमेरिकी राष्ट्रपति का बयान अमेरिका और रूस के बीच तनाव को उल्लेखित करता है। रूस असद का सबसे मजबूत साझेदार है। ओबामा और रूसी राष्ट्रपति ब्लादिमीर पुतिन के बीच द्विपक्षीय मुलाकात के दौरान असद का भविष्य प्रमुख मुद्दा होने की उम्मीद थी। पुतिन अमेरिकी राष्ट्रपति के बाद संयुक्त राष्ट्र महासभा को संबोधित करने वाले हैं। माना जा रहा है कि वह दलील पेश करेंगे कि असद की सेना आईएस से लड़ने में सक्षम है।

ओबामा ने असद शासन को पुतिन की ओर से मिल रहे निरंतर समर्थन को खारिज करते हुए कहा कि सिर्फ यह दलील देना समाधान नहीं है कि ‘विकल्प निश्चित तौर पर ज्यादा भयावह होगा।’ रूस के साथ तनाव की पृष्ठभूमि में ओबामा ने यूक्रेन में विद्रोहियों का समर्थन करने के लिए पश्चिमी देशों की ओर से मॉस्को के खिलाफ लगाए गए प्रतिबंधों का बचाव किया। ओबामा ने क्यूबा पर लगाए गए दशकों पुराने अमेरिकी प्रतिबंध को खत्म करने का भी आह्वान किया। संयुक्त राष्ट्र महासभा में ओबामा ने कहा कि उनको विश्वास है कि अमेरिकी कांग्रेस ‘निश्चित तौर पर उस प्रतिबंध को हटा लेगी जिसे अब बिल्कुल भी नहीं होना चाहिए।