चीन से सीमा विवाद के बीच अमेरिका ने फिर दिखाई भारत से दोस्ती, कह दी ये दिल छूने वाली बात

अमेरिका के राष्ट्रपति भवन व्हॉइट हाउस (White House) की तरफ से जारी एक बयान में कहा गया है कि अमेरिका भारतीय लोगों का हमेशा भरोसेमंद दोस्त (Faithful Friend) बना रहेगा.

चीन से सीमा विवाद के बीच अमेरिका ने फिर दिखाई भारत से दोस्ती, कह दी ये दिल छूने वाली बात
नरेंद्र मोदी और डोनाल्ड ट्रंप (फाइल फोटो)

वाशिंगटन: अमेरिका के राष्ट्रपति भवन व्हॉइट हाउस (White House) की तरफ से जारी एक बयान में कहा गया है कि अमेरिका भारतीय लोगों का हमेशा भरोसेमंद दोस्त (Faithful Friend) बना रहेगा. साथ ही कहा कि अमेरिका दोनों देशों के बीच संबंधों को और मजबूत करने के लिए उत्सुक है. व्हाइट हाउस की राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद (National Security Council) ने भारत के 74वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर ट्वीट के माध्यम से यह बात कही. जिसमें लिखा है, 'हम भारत के अपने दोस्तों को उनके स्वतंत्रता दिवस के मौके पर बधाई देते हैं.'

बता दें कि अमेरिका में भारतीय मूल के लोगों ने और भारतीयों ने भारत के 74वें स्वतंत्रता दिवस को बड़े धूमधाम से मनाया था. एनएससी के ट्वीट में इस साल के फरवरी में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (President Donald Trump) के भारत दौरे का हवाला देते हुए लिखा गया है कि अमेरिका दोनों देशों के संबंधों को और मजबूत करना चाहता है और हमेशा भारत के लोगों का भरोसेमंद दोस्त बना रहेगा. एनएससी के इस ट्वीट को सीनेट में भारत के समर्थट गुट के उपाध्यक्ष सीनेटर जॉन कॉर्निन ने रीट्वीट किया. 

ये भी पढ़ें: सावधान! अगले पांच दिन भारी बारिश करेगी परेशान, जानिए क्या है मौसम विभाग का पूर्वानुमान

इस सप्ताह की शुरुआत में एनएससी से जुड़े वरिष्ठ पदाधिकारी ने कहा था कि राष्ट्रपति ट्रंप ने भारत के साथ संबंधों को नई ऊंचाई दी है, जो पहले किसी भी राष्ट्रपति के कार्यकाल में नहीं दिखा था. फरवरी में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के भारत दौरे पर डोनाल्ड ट्रंप और भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दोनों देशों के बीच के रिश्ते को नई ऊंचाइयों पर ले गए, जो इंटरनेशनल स्ट्रैटेजिक पार्टनरशिप के लिहाज से बेहद अहम है.

बता दें कि भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) उन नेताओं में से एक हैं जिन्होंने डोनाल्ड ट्रंप के राष्ट्रपति बनने के बाद शुरुआती दिनों में व्हाइट हाउस का दौरा किया. यही नहीं दोनों नेता अब तक दो बड़ी रैलियों को भी संबोधित कर चुके हैं. जिसमें से एक ह्यूस्टन में सितंबर 2019 में 'हावडी मोदी' रहा, जिसमें 55000 से से ज्यादा लोगों की भीड़ उमड़ी तो दोबारा दोनों नेताओं ने फरवरी 2020 में भारत के अहमदाबाद में 'नमस्ते ट्रंप' कार्यक्रम को संबोधित किया जिसमें 1 लाख 10 हजार से ज्यादा लोगों की मौजूदगी रही.

एनएससी के वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक इन दोनों आयोजनों में जुड़े लोगों की संख्या यह दिखाती है कि इन दोनों शीर्ष नेताओं में कैसी आपसी समझ है. उनके मुताबिक ट्रंप ने भारत अमेरिका संबंधों को वरीयता दी है और पिछले साढ़े 3 सालों में दोनों देशों के बीच सहयोग को बढ़ाया है

अधिकारी के मुताबिक दोनों मजबूत लोकतांत्रिक देश साथ मिलकर वैश्विक अर्थव्यवस्था को संभाल रहे हैं खासकर कोरोना महामारी के बाद के दौर में. और लोबल सप्लाई चैन को बढ़ा रहे हैं. यही नहीं, दोनों ही देश इंडो पैसिफिक रीजन को खुला रखने में योगदान दे रहे हैं. राष्ट्रपति ट्रंप आने वाले सालों में सालों में भी इन संबंधों को ऊंचाइयों देने का प्रयत्न करेंगे.

अमेरिका के नेशनल सिक्योरिटी सिक्योरिटी काउंसिल ने बुधवार को पाकिस्तान और अफगानिस्तान के लोगों को भी उनके स्वतंत्रता दिवस की दिवस की बधाई दी है. बता दें कि पाकिस्तान 14 अगस्त को अपना स्वतंत्रता दिवस मनाता है है जो भारत के स्वतंत्रता दिवस से 1 दिन पहले होता है. 

 

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.