close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

ZEE Jankari: इजरायल के चुनाव में बेंजामिन नेतन्‍याहू और पीएम मोदी की दोस्‍ती के चर्चे

बेंजामिन नेतन्याहू, प्रधानमंत्री मोदी की इसी छवि का इस्तेमाल अपने चुनाव प्रचार के लिए कर रहे हैं और ये शायद पहला मौका होगा, जब भारत के किसी प्रधानमंत्री की छवि और उनकी गहरी दोस्ती को दुनिया के किसी और देश के राष्ट्राध्यक्ष ने अपने चुनावी फायदे के लिए इस्तेमाल किया होगा.

ZEE Jankari: इजरायल के चुनाव में बेंजामिन नेतन्‍याहू और पीएम मोदी की दोस्‍ती के चर्चे

नरेंद्र मोदी का Cool अवतार, इज़राएल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू के बड़े काम आ सकता है और इसकी एक वजह है वो वजह क्या है, ये जानने से पहले आप बेंजामिन नेतन्याहू द्वारा 28 जुलाई को Tweet किया गया ये Video देखिए.

बेंजामिन नेतन्याहू द्वारा Tweet किए गए Video में आपने तीन देशों के राष्ट्राध्यक्षों को देखा. पहले थे, अमेरिका के राष्ट्रपति Donald Trump...फिर थे Russia के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन और Video का अंत भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तस्वीरों के साथ हुआ. ये कोई संयोग नहीं है. बल्कि इस Video में आप दुनिया की नई व्यवस्था की पहली झलक देख सकते हैं, क्योंकि इस नए World Order में भारत बहुत मज़बूती के साथ खड़ा है और बेंजामिन नेतन्याहू, प्रधानमंत्री मोदी की इसी छवि का इस्तेमाल अपने चुनाव प्रचार के लिए कर रहे हैं और ये शायद पहला मौका होगा, जब भारत के किसी प्रधानमंत्री की छवि और उनकी गहरी दोस्ती को दुनिया के किसी और देश के राष्ट्राध्यक्ष ने अपने चुनावी फायदे के लिए इस्तेमाल किया होगा.

बेंजामिन नेतन्याहू की, Likud Party ने सितम्बर 2019 में होने वाले चुनाव को ध्यान में रखते हुए ये Video जारी किया है. ताकि बेंजामिन नेतन्याहू को चुनावी फायदा मिल सके. इससे पहले अप्रैल 2019 में इज़राएल में चुनाव हुए थे. लेकिन किसी भी पार्टी को पूर्ण बहुमत नहीं मिला था. इस वीडियो में ध्यान देने वाली बात ये भी है, कि Likud party के Headquarter में अमेरिका और Russia के राष्ट्रपति और भारत के प्रधानमंत्री की बड़ी-बड़ी तस्वीरें भी लगाई गई हैं. इससे आप अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर भारत के बढ़ते कद का अंदाज़ा भी लगा सकते हैं.

पुतिन, ट्रम्प और नरेंद्र मोदी से नज़दीकियों का फायदा व्लादिमीर पुतिन को मिल सकता है, लेकिन दूसरी तरफ, 2020 में अमेरिका में होने वाले राष्ट्रपति पद के चुनाव में Democratic Party के उम्मीदवार Bernie Sanders उनका खेल बिगाड़ सकते हैं. क्योंकि, वो इज़राएल को लेकर Donald Trump की नीतियों से संतुष्ट नहीं हैं. इसके अलावा भी कई सारे विषय हैं, जिन पर Bernie Sanders को आपत्ति है और इसके लिए वो अनोखा चुनाव प्रचार भी कर रहे हैं. एक ऐसा ही Video कुछ दिनों पहले आया था. जब वो किसी पत्रकार की तरह, New York के Wall Street पर खड़े होकर Piece to camera कर रहे थे. आज आपको चुनाव प्रचार का ये दिलचस्प Video भी देखना चाहिए.

इज़राएल से लेकर अमेरिका तक. बाहरी दुनिया में चल रहे अनोखे चुनाव प्रचार की बात तो हो गई. अब आपको समंदर की गहराइयों में लेकर चलते हैं. और ये बताते हैं, कि Cool Club के मुखिया यानी Russia के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने पिछले दिनों क्या किया? व्लादिमीर पुतिन अपनी Action Man वाली छवि के लिए जाने जाते हैं और एक बार फिर पुतिन के Action की Latest तस्वीर आई है.

व्लादिमीर पुतिन ने इस बार, Gulf of Finland में 50 मीटर की गहराई तक गोता लगाया. उनका मकसद था, वर्ष 1942 में World War Two के दौरान समुद्र में डूबे सोवियत संघ के एक Submarine और उसमें सवार Crew को अपनी श्रद्धांजलि देना. इस Submarine को पिछले साल कई वर्षों की मेहनत के बाद समुद्र के अंदर कई फीट नीचे ढूंढा गया था. गोता लगाने के दौरान पुतिन पानी के अंदर चलने वाली एक प्रकार की मिनी सबमरीन में बैठे हुए थे. इससे पहले व्लादिमीर पुतिन ने वर्ष 2015 में 10वीं सदी के एक जहाज का मलबा ढूंढने के लिए Black-Sea में 83 मीटर की गहराई में गोता लगाया था. बतौर राष्ट्रपति अपने कार्यकाल के दौरान पुतिन, हैरतअंगेज कारनामों के लिए मशहूर रहे हैं. 2015 से पहले 2009 में उन्होंने दुनिया की सबसे गहरी झील...'बैकल' (Baikal) में मिनी सबमरीन मीर-1 (Mir-1) की मदद से....1 हज़ार 400 मीटर की गहराई में गोता लगाया था.
 
इस बार गोता लगाकर बाहर आने के बाद उन्होंने एक दिलचस्प बात भी कही. व्लादिमीर पुतिन ने पत्रकारों से कहा, कि ज़मीन पर कई सारी समस्याएं हैं और इन समस्याओं के समाधान के लिए आपको या तो ऊपर जाना होगा या फिर समुद्र की गहराइयों में जाना होगा.

वैसे बात समुद्र के भीतर की दुनिया की हो रही है, तो आज आपको एक और दिलचस्प जानकारी देते हैं. Jordan में दुनिया का पहला Underwater Military Museum बनाया गया है. इसे दक्षिणी जॉर्डन के लाल समुद्र में 28 मीटर यानी 92 फीट की गहराई में बनाया गया है. Museum में Tanks, सैन्य एंबुलेंस, Combat Helicopters, Fighter Aircrafts, क्रेन और Anti-Aircrafts सहित 19 तरह के सैन्य उपकरण रखे गए हैं.

ख़ास बात ये है, कि इस Museum को सिर्फ सात दिन में बनाकर तैयार किया गया है. Museum बनाते वक्त इस बात का ख़ास ख्याल रखा गया है, कि स्कैनिंग या फोटो खींचने की प्रक्रिया में समुद्री जीवन प्रभावित ना हो. इस Museum का मकसद, ना सिर्फ पर्यटन को बढ़ावा देना है. बल्कि लोगों को समुद्री जीवों के साथ सैन्य उपकरणों को एक अलग अंदाज में देखने का मौका देना है. समुद्र के अंदर Deep Diving के शौकीन लोगों के लिए ये एक अनोखा अनुभव होगा. अगर आप भी Deep Diving के शौकीन हैं. या आप समुद्र के भीतर की दुनिया देखना चाहते हैं तो ये विश्लेषण आपको अच्छा लगेगा. आपको Jordan में बने Underwater Military Museum में जाने का मौका कब मिलेगा, ये तो हम नहीं कह सकते. लेकिन आपको इतना ज़रुर बता सकते हैं, कि आज आप घर बैठे, समुद्र की गहराइयों में बने अनोखे Museum की तस्वीरें देख सकते हैं. वो भी Free Of Cost...