close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

शिकंजे में भगोड़ा मेहुल चोकसी, जल्द भारत की जेल में होगा बंद!

देश को अरबों का चूना लगाकर विदेश जाकर छिपे भगोड़ों की शामत आने वाली है. दुनियाभर में बढ़ती भारत की ताकत और प्रभाव का असर है कि कोई भी देश ज़्यादा दिन उसे नाराज़ करने का खतरा मोल नहीं ले सकता. विजय माल्या, नीरव मोदी, जतिन मेहता सहित 28 बड़े अपराधी ऐसे हैं जो विदेशों में छिपे हैं. इनमें नीरव मोदी का मामा और हीरा कारोबारी मेहुल चोकसी एक और नाम है. देश को अरबों की चपत लगाकर मेहुल चोकसी छोटे से देश एंटीगा में जाकर छिप गया. 

शिकंजे में भगोड़ा मेहुल चोकसी, जल्द भारत की जेल में होगा बंद!

नई दिल्ली: देश को अरबों का चूना लगाकर विदेश जाकर छिपे भगोड़ों की शामत आने वाली है. दुनियाभर में बढ़ती भारत की ताकत और प्रभाव का असर है कि कोई भी देश ज़्यादा दिन उसे नाराज़ करने का खतरा मोल नहीं ले सकता. विजय माल्या, नीरव मोदी, जतिन मेहता सहित 28 बड़े अपराधी ऐसे हैं जो विदेशों में छिपे हैं. इनमें नीरव मोदी का मामा और हीरा कारोबारी मेहुल चोकसी एक और नाम है. देश को अरबों की चपत लगाकर मेहुल चोकसी छोटे से देश एंटीगा में जाकर छिप गया. 

लेकिन अब उसकी शामत आने वाली है. मेहुल चोकसी जल्द ही भारत की जेल में होगा. जिस देश एंटीगा में मेहुल चोकसी छिपा है उसके मुखिया ने साफ कर दिया है कि चोकसी का प्रत्यर्पण किया जाएगा. एंटीगा के प्रधानमंत्री गैस्टन ब्राउन ने कहा है कि मेहुल चौकसी को वापस अपने देश जाना ही होगा. 

गैस्टन ब्राउन ने कहा, 'जो जानकारी मिली है उसके मुताबिक मेहुल चोकसी एक धोखेबाज़ है. उसका मामला कोर्ट में लंबित है, अपराधियों के लिए भी एक प्रक्रिया है जिसे पूरा करना ज़रूरी है. अभी तो हम कुछ नहीं कर सकते, जब तक उसकी सारी अपील खत्म नहीं हो जाती है. लेकिन मैं आपको आश्वस्त करता हूं कि उसे भारत प्रत्यर्पित किया जाएगा. बस ये कुछ समय की ही बात है.'

एंटीगा के प्रधानमंत्री गैस्टन ब्राउन भी मेहुल चोकसी को धोखेबाज़ मानते हैं. गैस्टन ब्राउन ने ये भी कहा है कि भारतीय जांच एजेंसियां एंटीगा आकर मेहुल चोकसी से पूछताछ कर सकती हैं. पीएम ब्राउन ने ये भी बताया कि मेहुल चोकसी की वजह से एंटीगा के सिटिजनशिप बाय इनवेस्टमेंट प्रोग्राम को नुकसान पहुंचा है. मेहुल चोकसी ने एंटीगा के इसी प्रोग्राम का इस्तेमाल करते हुए एंटीगा की नागरिकता ली थी. एंटीगा ने भारतीय जांच एजेंसियों को वहां आकर मेहुल चोकसी से पूछताछ की आज़ादी भी दी है.

आपको बता दें कि गैस्टन ब्राउन ने न्यूयॉर्क में पीएम मोदी से मुलाकात के बाद ये सारी बातें कहीं. इससे पहले ब्राउन ने मेहुल चोकसी की नागरिकता को रद्द करने का ऐलान किया था. उन्होंने ये कदम भारत के दवाब में उठाया था. 

भगोड़ों का 'काला चिट्ठा'

भगोड़े मामा-भांजे का सच

गौरतलब है कि मेहुल चोकसी और उसके भांजे नीरव मोदी ने फर्जी लेटर ऑफ अंडस्टैंडिंग्स  के जरिए पंजाब नैशनल बैंक की मुंबई स्थित बार्डी हाउस शाखा को करीब 14 हजार करोड़ रुपये का चूना लगा दिया. इस घोटाले का भंडाफोड़ होने पर दोनों भारत छोड़ विदेश भाग गए.

भारत के आरोपों पर मार्च में नीरव मोदी को लंदन में गिरफ्तार किया गया था और तब से वो लंदन की जेल में बंद है. सरकार ने पिछले साल जुलाई में संसद में 28 आर्थिक भगोड़ों की जानकारी दी थी.

भगोड़ों का 'काला चिट्ठा'

विजय माल्या

  • इस लिस्ट में सबसे ऊपर हैं विजय माल्या जिन पर कई बैंकों का कुल मिलाकर 9000 करोड़ रुपये से अधिक का कर्ज है. माल्या भागकर लंदन चला गया है.

मेहुल चौकसी और नीरव मोदी

  • इसके बाद पंजाब नेशनल बैंक में फर्ज़ीवाड़े के मुख्य अभियुक्त मेहुल चौकसी और उनके भांजे नीरव मोदी का नंबर है. गीतांजलि जेम्स के प्रमोटर मेहुल चौकसी पर 7,080 करोड़ रुपये जबकि हीरा कारोबारी नीरव मोदी पर  बैंक के 6,498 करोड़ रुपये हड़पने का आरोप है. चोकसी एंटीगा जबकि नीरव लंदन में है.

जतिन मेहता

  • एक और कारोबारी विनसन डायमंड्स के प्रमोटर जतिन मेहता पर धोखाधड़ी कर बैंकों का 4,625 करोड़ हड़पने का आरोप है. जतिन भारत से फरार होकर सेंट किट्स पहुंच गया और वहां की नागरिकता ले ली.

पीएम मोदी ने साफ किया है कि देश का पैसा चुराकर भागे ऐसे अपराधियों को हर कीमत पर भारत लाया जाएगा. वो दिन दूर नहीं जब माल्या नीरव चोकसी जैसे तमाम भगोड़े अपराधी जेल की सलाखों के पीछे होंगे.