मध्यप्रदेश: इंदौर में जबरन मुहर्रम का जुलूस निकालने वाले लोगों पर रासुका

कोरोना काल (Corona Virus) में भीड़ इकट्ठा करने और सामूहिक रूप से कोई कार्यक्रम आयोजित करने पर रोक लगी हुई है. इस वजह से कई त्यौहार इस बार सूने ही निकल गए.

मध्यप्रदेश: इंदौर में जबरन मुहर्रम का जुलूस निकालने वाले लोगों पर रासुका

भोपाल: पूरे देश में कोरोना संक्रमण (Corona virus) के मामलों में तेजी से बढोत्तरी हो रही है. रोजाना करीब नये 75 हजार संक्रमितों की संख्या सामने आ रही है. इस बीच केंद्र सरकार ने अनलॉक 4 (Unlock 4) की गाइडलाइंस जारी कर दी हैं. हाल ही में मुहर्रम (Muharram) मनाया गया है लेकिन इसके लिए अनेक राज्य सरकारों ने जुलूस निकालने पर प्रतिबंध लगाया था क्योंकि भीड़ होने के कारण कोरोना संक्रमण का खतरा बढ़ सकता था. इसके बावजूद कुछ लोगों ने जबरन इंदौर में मुहर्रम (Muharram) का जुलूस निकाला.

क्लिक करें- चूर हुआ चीन का गुरूर, बातचीत करने को विवश चीनी सरकार

जानबूझकर लोगों में संक्रमण फैलाने की साजिश

मध्यप्रदेश में शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) सरकार ने मुहर्रम का जुलूस निकालने पर रोक लगाई थी. कुछ कट्टरपंथी मानसिकता के लोगों ने कोरोना के खतरे और सरकार के दिशा निर्देशों की अवहेलना करते हुए जबरन जुलूस निकाला. इससे इंदौर के प्रशासन उन पर कठोर कार्रवाई करने जा रहा है. इंदौर (Indore) के जिलाधिकारी (DM) ने इन लोगों पर रासुका लगाने की सिफारिश की है.

16 लोगों को किया गया गिरफ्तार

आपको बता दें कि मुहर्रम जुलूस निकालना पूर्व पार्षद को महंगा पड़ गया है. बताया जाता है कि पूर्व पार्षद की अगुवाई में इन लोगों ने सरकार की गाइडलाइंस की अवहेलना की और जबरन मुहर्रम का जुलूस निकाला.  पूर्व पार्षद उस्मान पटेल समेत अन्य लोगों पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है.

सैटेलाइट इमेज से खुलासा: डोकलाम के पास चीन ने खड़ा किया बुनियादी ढांचा, जानें विवाद

रासुका लगा सकती है शिवराज सरकार

गौरतलब है कि इसके साथ ही कलेक्टर ने डीआईजी से रासुका की कार्रवाई करने के लिए कहा है. इस मामले में सख्त कार्रवाई करते हुए केस दर्ज कर लिया गया है और टीआई को लाइन हाजिर कर दिया गया है. अनुमान है कि राज्य सरकार सभी आरोपियों पर रासुका (NSA) लगाकर कठोर कार्रवाई कर सकती है ताकि कोई भी आगे कोरोना संक्रमण के भयावह समय में लोगों की जिंदगी खतरे में न डाल सके.