‘अब्दुल’ मेरे यहां दरी नहीं बिछाएगा, अब वह भाजपा के यहां पोछा लगाएगा: आजम खान

आजम खान रामपुर विधानसभा क्षेत्र के नालापार इलाके में सोमवार रात एक चुनावी सभा को संबोधित कर रहे थे. किसी का नाम लिए बगैर आजम खान ने कहा, ‘‘उसने कहा कि अब्दुल (मुसलमान तबका) अब दरी नहीं बिछाएगा और यह कह कर वो मेरा साथ छोड़ कर चला गया. 

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Nov 29, 2022, 09:49 AM IST
  • बोले, अब्दुल जब आया था तब मैंने उसके लिए ‘रेड कारपेट’ बिछाया था
  • 8 दिसंबर के बाद अब्दुल उनके (भाजपा) के यहां पोछा लगाएगा
‘अब्दुल’ मेरे यहां दरी नहीं बिछाएगा, अब वह भाजपा के यहां पोछा लगाएगा: आजम खान

रामपुर: समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता आजम खान ने उनका साथ छोड़कर भाजपा में शामिल हो रहे लोगों पर तंज कसा है. आजम खान ने कहा कि आगामी 9 दिसंबर को रामपुर विधानसभा उपचुनाव के नतीजे घोषित हो जाएंगे. इसके बाद ‘अब्दुल’ भाजपा के यहां पोछा लगाएगा. आजम खान रामपुर विधानसभा क्षेत्र के नालापार इलाके में सोमवार रात एक चुनावी सभा को संबोधित कर रहे थे.

क्या बोले आजम
किसी का नाम लिए बगैर आजम खान ने कहा, ‘‘उसने कहा कि अब्दुल (मुसलमान तबका) अब दरी नहीं बिछाएगा और यह कह कर वो मेरा साथ छोड़ कर चला गया. अब्दुल जब आया था तब मैंने उसके लिए ‘रेड कारपेट’ बिछाया था. 8 दिसंबर के बाद अब्दुल उनके (भाजपा) के यहां पोछा लगाएगा.’’ 

बताया क्यों गए लोग भाजपा में
आजम खान ने कहा, ‘‘जितने भी ठेकेदार और मालदार थे वह अपनी जमीनों का अपनी जायदाद का हिसाब नहीं दे पाए इसलिए वह सब चले गए. जितने भी गद्दार थे, सब चले गए और अब सिर्फ वफादार रह गए हैं.’’ भाजपा के मंचों पर नजर आ रहे कुरैशी समुदाय के कुछ लोगों पर निशाना साधते हुए आरोप लगाया, ‘‘जिन लोगों पर गोकशी के 50-50 मुकदमे दर्ज हैं, वे आज भाजपा के मंच पर विराजमान हैं. आखिर कहां गई भाजपा की गाय के प्रति वह मोहब्बत.’’ 

अपने काम गिनाए आजम खान ने
खान ने उपस्थित जनसमूह पर नाराजगी भी जाहिर की और कहा, ‘‘मैंने तुम लोगों के लिए क्या नहीं किया, मगर तुमने लोकसभा उपचुनाव में आसिम राजा को हराकर हमारे साथ धोखा किया.’’ रामपुर इस वक्त सियासत के बदतरीन दौर से गुजर रहा है और एक ऐसे मोड़ पर खड़ा है जहां तुम्हारी एक गलती मेरी 50 साल की मेहनत को मटियामेट कर देगी. अगली पांच दिसंबर को तुम्हारे पास दो रास्ते होंगे. पहला, आसिम राजा को वोट देकर अपनी तरक्की और खुशहाली को चुन लो या फिर उन्हें हराकर अंधेरों में डूब जाओ.’’

उन्होंने कहा, ‘‘एक बहुत बड़ी साजिश चल रही है. इसका अंजाम तुम नहीं जानते.’’ आजम खान ने भावुक अपील करते हुए कहा, ‘‘मैंने आपके लिए क्या नहीं किया. न जाने कितने जुल्म सहे. सिर्फ आपके लिए... क्या सिर्फ यही मेरा कुसूर है. क्या सियासत इतनी गलीज हो सकती है. हालत यह है कि हम सब कुछ होते हुए भी अदालत में अपनी बेगुनाही साबित नहीं कर पाए. जेल मेरा इंतजार कर रही है.’’ 

उन्होंने कहा कि जो 1980 में रामपुर में सिर्फ महल और किला था. उसके बाद रामपुर में जो भी तरक्की हुई है वह मेरी मेहनत है. चाहे वह पक्की सड़कें हों, गलियां हो, पार्क हों या कारखाने हों. बता दें कि नफरत भरा भाषण देने के मामले में इस महीने के शुरू में आजम खां को तीन साल की सजा सुनाए जाने के कारण उनकी सदस्यता रद्द होने के चलते रामपुर विधानसभा सीट खाली हुई है. उपचुनाव के तहत आगामी पांच दिसंबर को मतदान होगा. परिणाम आठ दिसंबर को घोषित होगा. समाजवादी पार्टी ने इस उपचुनाव में आसिम राजा को उम्मीदवार बनाया है जबकि भाजपा ने आकाश सक्सेना को टिकट दिया है. 

इसे भी पढ़ें:  Khakee The Bihar Chapter: कौन हैं IPS अमित लोढ़ा? जिनकी लाइफ पर बनी शानदार वेब सीरीज

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़