झारखंड में भगवा झंडे की चमक पड़ी फिकी, महागठबंधन निकला तेज

झारखंड में भगवा झंडे की चमक-धमक लगभग फिकी पड़ती नजर आ रही है. झामुमो के नेतृत्व में महागठबंधन तेजी से सरकार बनाने के जादुई आंकड़े के पार जितनी सीटें लाती हुई नजर आ रही है. इस बीच तमाम राजनीतिक दलों के नेताओं ने चुनाव परिणाम पर क्या कहा आइए नजर डालते हैं.  

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Dec 23, 2019, 11:27 AM IST
    • रूझानों में तेजी से आगे बढ़ रही है झामुमो गठबंधन
    • मरांडी ने कहा अभी जल्दबाजी करनी ठीक बात नहीं
    • तेजस्वी ने कहा महागठबंधन बनाएगी सरकार
झारखंड में भगवा झंडे की चमक पड़ी फिकी, महागठबंधन निकला तेज

रांची: झारखंड में जैसे-जैसे ईवीएम मशीन का पिटारा खुल रहा है, वैसे-वैसे राजनीतिक पार्टियों के प्रमुखों की गतिविधियां तेज हो रही हैं. झामुमो के प्रमुख हेमंत सोरेन ने झाविमो से बातचीत करने की राजनीति पर काम शुरू कर दिया है. वहीं सूत्रों की मानें तो कांग्रेस आजसू के दो विधायकों से संपर्क साधे हुए है. फिलहाल रूझान महागठबंधन के पाले में गिरते हुए दिख रहे हैं. कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी आरपीएन सिंह ने तो यहां तक कह दिया कि उन्हें न ही झाविमो के साथ गठबंधन करने से मनाही है और ना ही आजसू के साथ.

रूझानों में तेजी से आगे बढ़ रही है झामुमो गठबंधन

महागठबंधन बहुत कम बढ़त के साथ ही सही लेकिन फिलहाल सरकार बनाने के सबसे नजदीक नजर आ रही है. हेंमत सोरेन के नेतृत्व में पार्टी का प्रदर्शन पिछली बार से बहुत सुधरा है. महागठबंधन को पिछली बार के मुकाबले 15 से 16 सीटों का फायदा होता नजर आ रहा है. रूझान लगभग यह कहानी बयान कर रहे हैं कि झामुमो गठबंधन सरकार बना लेने में सफल हो सकती है.

देखा जाए तो भाजपा इस रेस से धीरे-धीरे बाहर होती नजर आ रही है. वोटों की काउंटिंग शुरू होते ही यह कहा जा रहा था कि त्रिशंकु विधानसभा की तस्वीर नजर आती दिख सकती है. जाहिर है कि ऐसे में आजसू और झाविमो के सहयोग की बातें हवा में तैरने लगी है लेकिन अब वह तस्वीर भी धीरे-धीरे धुंधली होती नजर आ रही है क्योंकि झामुमो गठबंधन ने तेजी से बहुमत की ओर कदम बढ़ाया है. 

मरांडी ने कहा अभी जल्दबाजी करनी ठीक बात नहीं

इससे पहले यह कहा जा रहा था कि आजसू और झाविमो के साथ मिलकर सरकार बनाने की योजना पर भी काम किया जा रहा है. झाविमो के बाबूलाल मरांडी से जब पूछा गया कि क्या वो किसी दल से बातचीत कर रहे हैं तो उन्होंने जवाब दिया कि अभी उनकी किसी से भी बातचीत नहीं हो रही है. इसके अलावा जब मरांडी से यह पूछा गया कि क्या वे किंगमेकर की भूमिका में हो सकते हैं तो उन्होंने कहा कि यह कहना जल्दबाजी होगी. फिलहाल सूरत का तय होना अभी बाकी है. 

तेजस्वी ने कहा महागठबंधन बनाएगी सरकार

इसके अलावा झामुमो गठबंधन में राजद के तेजस्वी यादव ने कहा कि झारखंड की जनता बदलाव चाहती थी. वह इस सरकार से त्रस्त हो चुकी थी. भ्रष्टाचार और तेजी से फैला और सरकार कई मोर्चों पर असफल रही. गरीब-गुरबों की सरकार नहीं थी. उन्होंने कहा कि महागठबंधन हेमंत सोरेन के नेतृत्व में सरकार बनाने जा रही है.

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़