विवादास्पद बयान दे कर हवालात को चली गईं फिल्म अदाकारा पायल रोहतगी

अहमदाबाद से गिरफ्तारी के बाद आज बूंदी पुलिस ने विवादास्पद वीडियो के मामले में बॉलीवुड अभिनेत्री पायल रोहतगी को बूंदी ACJM कोर्ट में पेश किया. वहां कोर्ट ने पायल की जमानत याचिका खारिज करते हुए उन्हें 24 दिसंबर तक के लिये न्यायिक अभिरक्षा में भेजने के आदेश दिये.

विवादास्पद बयान दे कर हवालात को चली गईं फिल्म अदाकारा पायल रोहतगी

जयपुर: फिल्म अभिनेत्री पायल रोहतगी को विवादित बयानबाजी के चलते जो ट्रोल होना पड़ा वह तो अलग लेकिन कोर्ट ने भी उन्हें राहत नहीं दी. पायल रोहतगी के विवादास्पद वीडियो जिसमें वो नेहरू और गांधी परिवार के खिलाफ बोल रही हैं, उसके वायरल होने के बाद से ही उनकी मुश्किलें बढ़ती ही जा रही हैं. बूंदी के ACJM कोर्ट ने उनकी जमानत याचिका को खारिज कर दिया और उन्हें विवादित बयान देने के मामले में न्यायिक अभिरक्षा में रखे जाने का आदेश जारी किया है. 

सुनवाई के दौरान अदाकारा पायल रोहतगी से सहानुभूति रखने वाले भी कोर्ट पहुंचे थे. पायल को जेल भेजे जाने के आदेश के बाद उन्होंने नारे लगाने शुरू कर दिए. प्रदेश की कांग्रेस सरकार के खिलाफ कोर्ट में ही जमकर नारे लगाये जाने लगे. 

नेहरू और गांधी परिवार पर टिप्पणी के बाद विवादों से घिरी अदाकारा

अभिनेत्री पायल रोहतगी को नेहरु और गांधी परिवार पर की गई टिप्पणी ने सलाखों तक पहुँचा दिया. अभिनेत्री की नेहरु परिवार पर टिप्पणी उन्हें ऐसी भारी पढ़ी कि अहमदाबाद से गिरफ्तार हुई एक्ट्रेस पायल को बूंदी जेल तक का सफर तय करना पड़ा. 

बूंदी पुलिस विवादित टिप्पणी के मामले में पायल को लेकर अहमदाबाद से बूंदी पहुंची. बूंदी के एसीजेएम न्यायालय में पायल की पेशी के बाद जब फैसला सुनाया गया और अदाकारा बाहर आईं तो उन्हें न्यायालय के बाहर भारी भीड़ का सामना करना पड़ा जो नारेबाजी कर रहे थे.  हर कोई इस हाईप्रोफ़ाइल केस के नतीजे को जानना चाहता था.

अपर न्यायालय में दायर की याचिका, कल होगी सुनवाई 

करीब 45 मिनट तक कोर्ट में जिरह के बाद फैसला पायल की उम्मीद से परे आया. उनकी जमानत याचिका खारिज होने के साथ ही उन्हें 24 दिसम्बर तक जेल में भेजने का फैसला सुनाया गया. अदाकारा पायल के केस को डील कर रहे अधिवक्ता ने इस मामले को अब अपर न्यायालय ले जाने की तैयारी की है.

अधिवक्ता ने मामले से संबंधित वेल एप्लिकेशन भी दायर कर दिया है. इस मामले अब कल मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट के सम्मुख सुनवाई होगी. 

फैसले से नाखुश मंगेतर ने बताया राजनीतिक द्वेष का मामला

विवादित टिप्पणी कर घिरने के मामले में पायल के मंगेतर संग्राम सिंह भी कोर्ट के फ़ैसले से नाखुश दिखे. उन्होंने मीडिया से बात करते हुए कहा कि यह कार्रवाई पूरी तरह से राजनीतिक द्वेष के तहत की गई है. उन्होंने पायल के वकील की बात दोहराई और कहा कि वे अब इस मामले में अपर न्यायालय में अर्जी डालेंगे. 

सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक वीडियो शेयर कर गलत कहे जाने के मामले में अदाकारा को सोमवार की रात बूंदी जेल में ही कैद रहना पड़ रहा है. अब अगले दिन मामला अपर न्यायालय पहुंचेगा जहां एक्ट्रेस के आगे का फैसला सुनाया जाएगा. पायल के वकील ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि वे उन्हें वहां से छुड़ा लेंगे.