PM नरेंद्र मोदी ने वाराणसी दौरे में इन 10 बड़ी बातों पर दिया जोर

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज अपने लोकसभा क्षेत्र वाराणसी दौरे पर पहुंचे. जहां उन्होंने 1,200 करोड़ रुपए की परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया. लेकिन इस पूरे दौरे की वो कौन सी 10 बड़ी बातें हैं जिन पर पीएम मोदी ने जोर दिया, इस रिपोर्ट में पढ़ें.

PM नरेंद्र मोदी ने वाराणसी दौरे में इन 10 बड़ी बातों पर दिया जोर

नई दिल्ली: देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज अपने लोकसभा क्षेत्र वाराणसी का दौरा किया. इस दौरान उन्होंने बनारस से करीब 1,200 करोड़ रुपए की परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया. पीएम मोदी ने वाराणसी में श्री जगद्गुरू विश्वेश्वरैया गुरुकुल के शताब्दी समारोह में भाग लिया. इसके अलावा पं. दीनदयाल उपाध्याय जी की प्रतिमा का अनावरण किया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने महाकाल के भक्तों के लिये एक सुविधाजनक, सुरक्षित और आरामदायक सफर को सुनिश्चित करने हेतु Kashi Mahakal Express ट्रेन का शुभारंभ किया. यह ट्रेन इंदौर से काशी जाने वाले श्रद्धालुओं को ओंकारेश्वर, महाकालेश्वर और काशी विश्वनाथ के दर्शन करायेगी.

PM मोदी के वाराणसी दौरे की 10 बड़ी बातें

1. 'राष्ट्र सत्ता से नहीं, संस्कृति और संस्कारों से सृजित हुआ'

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि "संस्कृति और संस्कृत की संगम स्थली में आप सभी के बीच आना, मेरा लिए बहुत बड़ा सौभाग्य है. बाबा विश्वनाथ के सानिध्य में, मां गंगा के आंचल में, संत वाणी का साक्षी बनने का अवसर बार-बार नहीं मिलता."

"भारत में राष्ट्र का ये मतलब कभी नहीं रहा कि किसने कहां जीत हासिल की, किसकी कहां हार हुई. हमारे यहां राष्ट्र सत्ता से नहीं, संस्कृति और संस्कारों से सृजित हुआ है, यहां रहने वालों के सामर्थ्य से बना है. देश की सही पहचान को भावी पीढ़ी तक पहुंचाने का दायित्व हम सभी पर है."

2. 'युवाओं ने स्वच्छ भारत अभियान को कोने-कोने में पहुंचाया'

उन्होंने बोला कि "जिस प्रकार काशी और देश के युवाओं ने स्वच्छ भारत अभियान को देश के कोने-कोने में पहुंचाया है वैसे ही और संकल्पों को भी हमें देशभर में पहुंचाना है. मैंने लाल किले से भी आग्रह किया था कि हमें वो सामान खरीदने को प्राथमिकता देनी चाहिए जो लोकल में बना हो."

"देश में बड़े-बड़े अभियानों को सिर्फ सरकार के भरोसे नहीं चलाया जा सकता, इसके लिए जनभागिदारी बहुत आवश्यक है. बीते 5-6 वर्षों में अगर गंगाजल में अभूतपूर्व सुधार देखने को मिल रहा है तो इसके पीछे भी जनभागीदारी का बहुत महत्व है."

3. राम मंदिर के निर्माण पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

राम मंदिर पर पीएम मोदी बोलें कि "कुछ दिन पहले ही सरकार ने राम मंदिर निर्माण के लिए एक स्वायत्त ट्रस्ट- ‘श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र’ के गठन करने की भी घोषणा की है. ये ट्रस्ट अयोध्या में भगवान श्रीराम की जन्मस्थली पर, भव्य और दिव्य श्रीराम मंदिर के निर्माण का काम देखेगा और सारे निर्णय लेगा."

"राम मंदिर से जुड़ा एक और बड़ा फैसला सरकार ने किया है. अयोध्या कानून के तहत जो 67 एकड़ जमीन अधिगृहित की गई थी, वो भी पूरी की पूरी, नवगठित श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र को ट्रांसफर कर दी जाएगी. जब इतनी बड़ी जमीन होगी तो मंदिर की भव्यता और दिव्यता और बढ़ेगी."

4. पं. दीनदयाल उपाध्याय की प्रतिमा का अनावरण

प्रधानमंत्री ने आज पं. दीनदयाल उपाध्याय जी की प्रतिमा का अनावरण किया. इस मौके पर उन्होंने कहा कि "आज इस क्षेत्र, दीनदयाल जी की स्मृति स्थली का जुड़ना, अपने नाम पड़ाव की सार्थकता को और सशक्त कर रहा है. ऐसा पड़ाव जहां, सेवा, त्याग, विराग और लोकहित सभी एक साथ जुड़कर एक दर्शनीय स्थल के रूप में विकसित होंगे."

"पं. दीनदयाल जी की आत्मा हमें हमेशा प्रेरणा देती रहती है. दीनदयाल उपाध्याय जी ने हमें अंत्योदय का मार्ग दिखाया था. यानी जो समाज की आखिरी पंक्ति में हैं, उसका उदय. 21वीं सदी का भारत, इसी विचार से प्रेरणा लेते हुए अंत्योदय के लिए काम कर रहा है."

5. रोजगार निर्माण के भी बड़े साधन पर बोले पीएम मोदी

PM ने ये भी कहा, "काशी सहित इस पूरे क्षेत्र में हो रहे कनेक्टिविटी के काम आपकी सुविधा के साथ-साथ रोजगार निर्माण के भी बड़े साधन तैयार कर रहे हैं. विशेषतौर पर पर्यटन आधारित रोजगार, जिसको लेकर काशी और आसपास के क्षेत्रों में बहुत बड़ी संभावना है, उनको बल मिल रहा है."

"आज काशी आने वाला हर श्रद्धालु सुखद अनुभव लेकर यहां से जाता है. कुछ दिन पहले श्रीलंका के राष्ट्रपति भी यहां आए थे, तो यहां के अद्भुत वातावरण, दिव्य अनुभूति से बहुत मंत्रमुग्ध थे. सोशल मीडिया में उन्होंने काशी के साथियों की बहुत प्रशंसा की है."

6. काशी-महाकाल एक्सप्रेस को दिखाई हरी झंडी

आज पीएम ने बाबा महाकाल के श्रद्धालुओं को बेहतरीन तोहफा दिया और बोला कि "विश्वनाथ की नगरी को ओंकारेश्वर और महाकालेश्वर से जोड़ने वाली काशी-महाकाल एक्सप्रेस को भी हरी झंडी दिखाई गई है. काशी में बाबा के दर्शन के बाद, उज्जैन में महाकाल के दर्शन कर पाएंगे. इसी ट्रेन में आगे बढ़कर इंदौर में ओंकारेश्वर में श्रद्धासुमन अर्पित कर पाएंगे."

इसे भी पढ़ें: "काशी महाकाल एक्सप्रेस" से कीजिए तीन ज्योतिर्लिंग के दर्शन, PM मोदी ने दिखाई हरी झंडी

"BHU में आज जिस सुपर स्पेशिएलिटी अस्पताल का लोकार्पण हुआ है, उसका शिलान्यास 2016 के आखिरी में, मैंने ही किया था। सिर्फ 21 महीने में 430 बेड का ये अस्पताल बनकर काशी और पूर्वांचल के लोगों की सेवा के लिए तैयार हुआ है."

7. 'कला हमेशा से ही भारत की शक्ति रही है'

प्रधानमंत्री ने कहा कि "भारत की हमेशा से ही ये शक्ति रही है कि यहां के हर क्षेत्र, हर जिले की पहचान से कोई ना कोई विशेष कला, विशेष आर्ट और विशेष उत्पाद जुड़ा रहा है. ये सदियों से हमारे वहां परंपरा रही है. हमारे कारोबारियों, व्यापारियों ने इसका प्रचार दुनियाभर में किया है."

"हमारे पास संसाधनों की और कौशल की कभी कमी नहीं रही है, बस एक व्यापक सोच के साथ काम करने की जरूरत है. जरूरत बस इस कहानी को दुनिया तक पहुंचाने की है. उत्तर प्रदेश इंस्टीट्यूट ऑफ डिजायन इसमें बहुत बड़ी भूमिका निभाएगा."

8. दोना-पत्तल बनाने वाले कारीगरों को दी गईं आधुनिक मशीनें

उन्होंने अपने बनारस दौरे पर ये भी कहा कि "उत्तर प्रदेश इंस्टीट्यूट ऑफ डिजायन द्वारा पिछले 2 वर्षों में, 30 जिलों के 3500 से ज्यादा शिल्पकारों, बुनकरों को डिजाइन में सहायता दी गई है. क्राफ्ट से जुड़े उत्पादों में सुधार के लिए एक हजार कलाकारों को Tool Kit भी दिए गए हैं. यहां आने से पहले मैं वन डिस्ट्रिक्ट, वन प्रोडक्ट से जुड़ी प्रदर्शनी को भी देखकर आया हूं. यूपी के अलग-अलग हिस्सों के उत्पादों का शानदार कलेक्शन वहां है."

"वहां दोना-पत्तल बनाने वाले कारीगरों को आधुनिक मशीनें भी दी गईं हैं. उनका आत्मविश्वास देखते ही बन रहा था."

9. बजट पर बनारस में क्या बोलें प्रधानमंत्री मोदी

बजट में उद्योग वर्ग पर दिए गए ध्यान को बताते हुए पीएम मोदी ने बोला कि "इस बार का जो बजट है, उसने भी सरकार की प्राथमिकताओं को स्पष्ट कर दिया है. सिर्फ इस साल के लिए नहीं बल्कि आने वाले 5 वर्षों के लिए छोटे और मझोले उद्योगों के विकास का एक खाका खींचा गया है."

"इस साल के बजट में, यूपी में बन रहे डिफेंसकॉरिडोर के लिए भी करीब 3700 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है. हाल ही में लखनऊ में दुनियाभर की डिफेंस कंपनियों ने यहां उद्योग लगाने की रुचि दिखाई, कई कंपनियां समझौते भी कर चुकी हैं."

10. 1,200 करोड़ रुपए की परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास

PM नरेंद्र मोदी ने बताया कि "आज वाराणसी सहित पूरे पूर्वांचल को लाभ पहुंचाने वाली करीब 1,200 करोड़ रुपए की परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया गया है. बीते 5 वर्षों में वाराणसी जनपद में लगभग 25,000 करोड़ रुपए के विकास कार्य या तो पूरे हो चुके हैं, या काम चल रहा है."

इसे भी पढ़ें: अपना पेशाब पीजिये, अच्छा स्वास्थ्य मिलेगा