• भारत में कोरोना के कुल सक्रिय मामले अभी तक 3851, 319 लोग इलाज के बाद ठीक हुए, 111 लोगों की मौत
  • कोरोना संकट से जूझने के लिए सांसदों की तनख्वाह में से एक साल के लिए 30 फीसदी की कटौती की जाएगी, सरकार ने अध्यादेश को मंजूरी दी
  • जरुरतमंदों तक खाद्य सामग्री पहुंचाने के लिए फूड कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया ने लॉकडाउन के दौरान रिकॉर्ड 16.94 लाख टन अनाज की ढुलाई की
  • कोरोना मरीजों के लिए 2500 रेल कोचों में 40 हजार आइसोलेशन वार्ड बनाए गए
  • देश के इन राज्यों में कोरोना के ज्यादा मरीज- महाराष्ट्र में 748, तमिलनाडु में 571, दिल्ली में 523, केरल में 314
  • उत्तर प्रदेश में 305, राजस्थान में 274, आंध्र प्रदेश में 226, मध्य प्रदेश में 165 कोरोना के मरीज हैं
  • दुनिया में कोरोना के कुल मरीजों की संख्या 1346003 है. इसमें से 74654 लोगों की मौत हो चुकी है और 278445 लोग ठीक हो चुके हैं

"काशी महाकाल एक्सप्रेस" से कीजिए तीन ज्योतिर्लिंग के दर्शन, PM मोदी ने दिखाई हरी झंडी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वाराणसी से चलने वाली तीसरी प्राइवेट वर्ल्ड क्लास ट्रेन "काशी महाकाल एक्सप्रेस" को हरी झंडी दिखा दी है. इस रिपोर्ट के जरिए जानिए कैसे अब ट्रेन से किया जा सकता है तीन ज्योतिर्लिंग के दर्शन.

"काशी महाकाल एक्सप्रेस" से कीजिए तीन ज्योतिर्लिंग के दर्शन, PM मोदी ने दिखाई हरी झंडी

नई दिल्ली: वाराणसी से चलने वाली IRCTC की ये तीसरी प्राइवेट वर्ल्ड क्लास ट्रेन है. जिसका नाम महाकाल एक्सप्रेस है. अब आप बिना ट्रेन बदले एक साथ तीन ज्योतिर्लिंग के दर्शन कर पाएंगे. महाकाल एक्सप्रेस की क्या खासियत है और इसकी टाइमिंग क्या होगी. ये ट्रेन कहां-कहां से होकर गुजरेगी, ये समझ लीजिए. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने "काशी महाकाल एक्सप्रेस" ट्रेन को हरी झंडी दिखाई

बाबा के भक्तों को भारतीय रेल का तोहफा

महाकाल एक्सप्रेस आपको एक साथ तीन ज्योतिर्लिंग के दर्शन कराएगी. इस ट्रेन से यात्री वाराणसी के काशी विश्वनाथ और उज्जैन के महाकालेश्वर के साथ-साथ ओंकारेश्वर ज्योतिर्लिंग के दर्शन कर सकते हैं. महाकाल एक्सप्रेस, हमसफर ट्रेन की तरह कई तरह की सुविधाओं से लैस एक कॉरपोरेट ट्रेन है जिसका संचालन IRCTC के हाथों में है.

ये पूरी तरह से एसी ट्रेन है और ट्रेन में सिर्फ थर्ड AC कोच ही लगाए गए हैं. ट्रेन के किराए की बात करें तो थर्ड AC के लिए आपको 1951 रुपए चुकाने होंगे और इस ट्रेन में डायनामिक फेयर लागू होगा. महाकाल एक्सप्रेस ट्रेन सप्ताह में तीन दिन चलेगी.

शिवभक्तों को मोदी सरकार की बड़ी सौगात

ये ट्रेन दो अलग-अलग रूटों से होकर गुजरेगी. पहला रूट वाराणसी से वाया लखनऊ होते हुए इंदौर पहुंचेगी और ये ट्रेन दोपहर 2 बजकर 45 मिनट पर वाराणसी जंक्शन से रवाना होगी. और सुबह 9 बजकर 40 मिनट पर अपने निर्धारित समय पर इंदौर पहुंचेगी. इसी तरह दूसरे रूट की बात करें तो वाराणसी से रविवार को ये ट्रेन शाम 5 बजकर 35 मिनट पर छूटेगी और वाया प्रयागराज होते हुए अगले दिन सुबह 9 बजकर 40 मिनट पर इंदौर पहुंच जाएगी.  

IRCTC अधिकारियों के मुताबिक ट्रेन कोच में यात्रियों को आधुनिक सुविधाएं मिलेंगी. ट्रेन के इंटीरियर भी बेहद खूबसूरत देखने को मिलेगा. सफर के दौरान किसी भी यात्री को परेशानी ना हो. इसलिए सीसीटीवी से लेकर एलईडी स्क्रीन और आरामदायक सीटों को लगाया गया है. यही वजह है कि यात्रियों को महाकाल एक्सप्रेस से सफर करने के लिए अपनी जेब थोड़ी ज्यादा ढीली करनी पड़ सकती है.

अब ट्रेन से कीजिए तीन ज्योतिर्लिंग के दर्शन

महाकाल एक्सप्रेस के जरिए आम लोग अयोध्या के राममंदिर से लेकर संगम में भी डुबकी लगा सकेंगे. इसके लिए IRCTC ने अलग-अलग टूर पैकेज भी शुरू किए हैं. काशी-महाकाल एक्सप्रेस की खास बात ये है कि इसमें यात्रियों को सिर्फ शाकाहारी भोजन ही दिया जाएगा. इस ट्रेन का एक बड़ा मकसद धार्मिक स्थलों तक यात्रियों को पहुंचाना है इसलिए पैंट्री कार में शाकाहारी भोजन ही बनेंगे.

इसे भी पढ़ें: अपना पेशाब पीजिये, अच्छा स्वास्थ्य मिलेगा

आपको बतादें ये ट्रेन 20 फरवरी से चलेगी और महाशिवरात्रि के दिन महाकाल पहुंचेगी. महाकाल एक्सप्रेस ट्रेन से यात्रा करने के लिए टिकट की बुकिंग IRCTC ने ऑनलाइन शुरु कर दी है. तो फिर देर किस बात की है. हो जाइए तैयार महाकाल एक्सप्रेस में बैठकर भोलेनाथ के जयकारे लगाने और दर्शन के लिए.

इसे भी पढ़ें: जी हाँ, आपका कुत्ता मुस्कुराता भी है