गणतंत्र दिवस से पहले हमले की बड़ी साजिश, सेना ने जैश के तीन आतंकी पकड़े

दक्षिण कश्मीर के पुलवामा जिले के त्राल में सेना और आतंकियों के बीच मुठभेड़ चल रही है. सेना ने यहां जैश के तीन आतंकियों को घेर रखा है.

गणतंत्र दिवस से पहले हमले की बड़ी साजिश, सेना ने जैश के तीन आतंकी पकड़े

श्रीनगर: गणतंत्र दिवस से पहले दक्षिण कश्मीर के पुलवामा जिले के त्राल में सेना और आतंकियों के बीच मुठभेड़ चल रही है. सेना ने यहां पर जैश के तीन आतंकियों को घेर रखा है. रिपोर्ट के मुताबिक दोनों ओर से फायरिंग हो रही है. सेना ने आस-पास के इलाके में नाकेबंदी कर दी है और पूरे इलाके को घेर लिया है. बताया जा रहा है कि सुरक्षाबलों ने जैश-ए-मोहम्मद के एक टॉप कमांडर कारी यासिर और दो अन्य आतंकियों को घेरा हुआ है. 

आतंकियों के घर में छिपे होना की आशंका

प्राप्त जानकारी के मुताबिक आतंकी एक घर में छिपे हुए हैं. सेना ने आस-पास के लोगों को मकान खाली करने को कहा है.  सेना ने जिन आतंकियों को घेर रखा है उनकी पहचान भी सामने आ रही है. रिपोर्ट के मुताबिक सेना ने जैश के कमांडर कारी यासिर को घेर लिया है.

कौन है कारी यासिर 

आपको बता दें कि कारी यासिर पाकिस्तानी मूल का है और कारी यासिर ने जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के बाद घाटी में आम लोगों की हत्याओं को अंजाम दिया था. इस आतंकी पर त्राल गुज्जरों की हत्या का आरोप है. कश्मीर में आतंकवाद और अलगाववादी साजिशें करने के लिये सेना इस आतंकी का लंबे समय से ठिकाना खोज रही थी.

आतंकियों में एक फिदायीन भी शामिल

गौरतलब है कि दूसरे आतंकी का नाम बुरहान शेख बताया जा रहा है. कहा जा रहा है कि ये एक फिदायीन है. इस वजह से सेना बेहद सावधानी से ऑपरेशन चला रही है. सेना पूरे क्षेत्र में नेकाबंदी करके सर्च ऑपरेशन चला रही है. 

सुरक्षा व्यवस्था कड़ी की गई

आपको बता दें कि 500 एक्सरे मशीन लगाई जाएगी. एनएसजी की स्वेट टीम, स्पेशल सेल की स्वेट टीम, एंटी टेरर के चलते, एनएसजी की एंटी ड्रॉन टीम भी तैनात होती है. परेड के रास्ते पर कुल 1000 से ज्यादा सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं. कुछ जगह फेशियल रिकॉनाइजेशन सॉफ्टवेयर भी लगाए जाते हैं, ये स्पेसिफिक जगहों पर लगेंगे. फेशियल रिकॉनाइजेशन के लिए 100 से ज्यादा कैमरे लगाए गए.

ये भी पढ़ें- 26 जनवरी को लेकर राजधानी में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम