बंगाल के इस इलाके में हो रहा है CAA का जबरदस्त समर्थन

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी जहां CAA के विरोध में मुहिम छेड़े हुए हैं. वहीं उन्हीं के राज्य के एक हिस्से जलपाईगुड़ी के लोग CAA के समर्थन में रैली निकाल रहे हैं. 

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Dec 18, 2019, 04:47 PM IST
    • CAA का समर्थन
    • जलपाईगुड़ी में निकाली गई रैली
बंगाल के इस इलाके में हो रहा है CAA का जबरदस्त समर्थन

जलपाईगुड़ी: पश्चिम बंगाल के जलपाईगुड़ी में CAA के समर्थन में लोग सड़कों पर उतर आए हैं. यहां हजारों की संख्या में लोगों ने बैंड बाजा निकालकर  एक विशाल रैली का आयोजन किया. 

जहां पूरे देश में CAA के विरोध में माहौल गरम हो गया है और देशभर में प्रदर्शन चल रहे हैं, वहीं जलपाईगुड़ी के धुपगुड़ी इलाके में ठीक उसका उल्टा नजारा देखने को मिल रहा है. 

मंगलवार शाम को पश्चिम बंगाल सरकार और ममता बनर्जी के दावे को खारिज करते हुए CAA के समर्थन में धुपगुड़ी इलाके में लोगों ने एक विशाल रैली निकाली.  इस रैली में शामिल लोगों का कहना था कि CAA को लेकर के तृणमूल , कांग्रेस और कम्युनिस्ट लोग गलत प्रचार कर रहे हैं. 

इस रैली में शामिल लोगों ने पश्चिम बंगाल की ममता सरकार को बर्खास्त करने के भी नारे लगाए. मंगलवार को जलपाईगुड़ी जिले के धुपगुड़ी शहर के राजपथ में बैंड बाजे के साथ विशाल रैली का आयोजन किया गया. इस रैली का आयोजन स्थानीय भाजपा यूनिट ने किया था. 

रैली में शामिल लोगों ने बंगाल के उस पार से आए शरणार्थियों के साथ भाईचारा दिखाते हुए CAA  के समर्थन में ये रैली निकाली. इस रैली को सुरक्षित रुप से निकालने के लिए भारी तादाद में पुलिस बल तैनात थी.  इसके साथ-साथ रैपिड एक्शन फोर्स को भी तैनात किया गया था. 

रैली में शामिल जलपाईगुड़ी जिला के भाजपा अध्यक्ष बापी गोस्वामी ने कहा कि ममता बनर्जी  की तृणमूल कांग्रेस और कम्युनिस्ट पार्टी के लोग जनता के बीच CAA को लेकर गलत प्रचार कर रहे हैं. जिसकी वजह से जनता को गलत संदेश जा रहा है. 

जलपाईगुड़ी का इलाका भाजपा का गढ़ माना जाता है. यहां बंगाल के बेदखल होकर आए राजबोंगशी समुदाय की बड़ी संख्या है. जिन्होंने कूचबिहार और जलपाईगुड़ी की लोकसभा सीटों पर भाजपा की जीत में  बड़ी अहम भूमिका निभाई थी. 
मंगलवार को हुई रैली में राजबोंगशी समुदाय के लोगों की भी बड़ी संख्या में भागीदारी थी. 

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़