कांग्रेस ने दिग्विजय सिंह को दिया CAA पर आग लगाने का जिम्मा

नागरिकता को लेकर कबतक मुसलमानों को कांग्रेस पार्टी और उसके नेता भड़काएंगे? ये सवाल इस लिए उठ रहा है क्योंकि कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने मुसलमानों को लेकर पीएम मोदी पर आपत्तिजनक टिप्पणी की है.

कांग्रेस ने दिग्विजय सिंह को दिया CAA पर आग लगाने का जिम्मा

नई दिल्ली: नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ एक तरफ पूरा देश बवाल झेल रहा है, तो दूसरी तरफ कांग्रेस पार्टी इस आंच पर रोटी सेंकने से बाज नहीं आ रही है. एक के बाद एक कांग्रेसी नेता लोगों को भड़काने वाले बयान दे रहे हैं, लोगों को उकसा रहे हैं. कभी धरना तो कही विवादित बोल से माहौल बिगाड़ने का काम लगातार जारी है.

दिग्गी की जुबान फिसल ही जाती है!

पीएम मोदी पर कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह का आपत्तिजनक बयान सामने आया है. दिग्विजय सिंह ने नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ हो रहे प्रदर्शन पर कहा है कि देश के देश के मुसलमान मोदी जी पर कैसे भरोसा करें? दिग्विजय सिंह का ये बयान उस वक्त सामने आया है जब पीएम मोदी और गृहमंत्री शाह ने देश के मुसलमानों से शांति बनाए रखने की अपील की थी.

कांग्रेस नेता का पूरा बयान

दिग्विजय सिंह ने अपने इस बयान में कहा कि 'आप बार-बार कहते हैं कि मुसलमानों मेरे ऊपर भरोसा करो. अरे अमित शाह जी, मोदी जी मुसलमान तुम्हारे ऊपर कैसे भरोसा करें? 2002 के दंगों के बाद से कोई मुसलमान तुम पर भरोसा करेगा क्या? विश्वास की बात करते हो, हजारों लोगों को तुमने उजाड़ दिया, हजारों निर्दोष लोगों को तुम ने मार डाला, गुजरात के दंगा पीड़ित लोगों को आज तक तुमने बसाया नहीं और तुम कहते हो कि हिंदुस्तान के मुसलमानों डरो मत मुझ पर भरोसा करो, कौन करेगा भरोसा?'

दिग्विजय ने किया अदालत का अपमान

दिग्विजय सिंह ने प्रधानमंत्री मोदी पर गंभीर आरोप लगाते हुए ये भुला दिया कि गुजरात दंगों की जांच कर रहे नानावटी आयोग ने पीएम नरेंद्र मोदी और अमित शाह को क्‍लीन चिट दे दी है. गुजरात दंगा मामले में नानावटी कमीशन की रिपोर्ट में PM नरेंद्र मोदी को क्लीनचिट दे दी गई है. गुजरात विधानसभा में पेश की गई नानावती-मेहता आयोग की रिपोर्ट में, कहा गया है कि गोधरा ट्रेन जलाने के दंगे प्रोयोजित नहीं किए गए थे. ऐसे में ये देश की सर्वोच्च अदालत का अपमान है.

कबतक मुसलमानों को भड़काएगी कांग्रेस?

सवाल ये भी उठता है कि कांग्रेस पार्टी अपने नेताओं के कंधे पर हथियार रखकर कबतक देश के मुसलमानों को भड़काने का काम करेगी? कभी कांग्रेस पार्टी की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा इंडिया गेट पर धरने पर बैठ जाती हैं तो कभी कांग्रेस पार्टी के नेता मोहम्मद आसिफ लोगों को भड़काते हैं. उन्होंने तो सीधे तौर पर पुलिस को धमकी देते हुए ये तक कह दिया है कि मुझपर 10 केस दर्ज कर लो, मेरे साथ 5 लाख की भीड़ है. इसके अवाला अब दिग्विजय सिंह के इस विवादित बयान के बाद सवाल उठना लाजमी है.

इसे भी पढ़ें: नागरिकता कानून पर हिंसा के खिलाफ यूपी में अबतक 113 गिरफ्तार

नागरिकता संशोधन कानून को लेकर देश में पहले से ही बवाल मचा हुआ है. देश में शांति का माहौल बनाने की अपील करने के बजाय कांग्रेस पार्टी लोगों के विरोध को तूल देने का काम कर रही है. 

इसे भी पढ़ें: सीलमपुर हिंसा मामले में 6 लोग गिरफ्तार, पुलिस ने दर्ज की दो FIR