नागरिकता कानून पर हिंसा के खिलाफ यूपी में अबतक 113 गिरफ्तार

नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ उत्तर प्रदेश सरकार ने सख्त रुख अपनाते हुए अबतक 113 लोगों को गिरफ्तार किया है. इसके अलावा मऊ हिंसा मामले में 157 लोगों पर नामजद और 1042 अज्ञात पर केस दर्ज किया गया है. इनमें से 9 आरोपियों पर नेशनल सिक्योरिटी एक्ट यानी NSA लगाने की तैयारी है.

नागरिकता कानून पर हिंसा के खिलाफ यूपी में अबतक 113 गिरफ्तार

नई दिल्ली: पूरे देश में नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ सड़कों पर बवाल, आगजनी और प्रदर्शन का सिलसिला लगातार चल रहा है. इस बीच उत्तर प्रदेश में हुए बवाल और हिंसा के खिलाफ योगी सरकार ने बड़ी कार्रवाई की है. जिसके तहत 100 से ज्यादा लोगों को गिरफ्तार किया गया है.

यूपी में धारा 144 लागू

उत्तर प्रदेश में नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ हुई हिंसा के मामले में योगी सरकार सख्त हो गई है. हिंसा के बाद से पूरे प्रदेश में धारा 144 लागू है. इसके साथ ही यूपी में अफवाहों पर शिकंजा कसने के लिए भी सरकार और प्रशासन पूरी तरह से मुश्तैद है.

यूपी पुलिस ने अबतक 113 लोगों को गिरफ्तार किया है. इसमें सबसे कड़ी कार्रवाई मऊ में हुए हिंसा के खिलाफ की गई है. मऊ हिंसा मामले में अब तक 28 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. साथ ही मऊ में 9 आरोपियों पर नेशनल सिक्योरिटी एक्ट यानी NSA लगाने की तैयारी है. साथ ही मऊ में 157 लोगों पर नामजद और 1042 अज्ञात पर केस दर्ज किया गया है.

मऊ में क्या हुई था?

मऊ के हाजीपुरा इलाके में भीड़ दिल्ली की जामिया यूनिवर्सिटी में 15 दिसंबर को हुई पुलिस की कार्रवाई का विरोध करने के लिये जमा हुई थी. पुलिस ने कर्फ्यू लगाने की चेतावनी देते हुए लोगों को शांत होने को कहा था. पुलिस ने हल्का-फुल्का बल प्रयोग करके इन लोगों को तितर-बितर भी किया था. लेकिन शाम को प्रदर्शनकारियों ने इकट्टे होकर तोड़फोड़ शुरू कर दी गई. एक पुलिस थाने में आग लगाई गई. जिसमें थाने का सारा सामान जल गया था. उसके बाद प्रदर्शनकारियों ने रोडवेज की बसों पर पथराव किया था और सड़कों पर खड़ी कई गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया था. पुलिस ने आंसू गैस के गोले छोड़कर और हवाई फायरिंग करके हिंसक भीड़ को तितर-बितर किया.

कई जिले में बंद है इंटरनेट सेवा

बरेली से भी 8 लोगों की गिरफ्तारी हुई है. वहीं लखनऊ के नदवा कॉलेज के 2 छात्रों को हिंसा के आरोप में गिरफ्तार किया गया है. अलीगढ़, सहारनपुर, मऊ, संभल जिले में इंटरनेट सेवा फिलहाल बंद है. उत्तर प्रदेश में दो दिनों में पुलिस के सोशल मीडिया सेल ने एक्शन लिया. 752 आपत्तिजनक ट्वीट पर और 826 आपत्तिजनक फेसबुक पोस्ट पर कार्रवाई की गई.

इसे भी पढ़ें: साफ-साफ बोले शाह, CAA पर नहीं बदलेगा सरकार का रुख

नागरिकता संशोधन कानून को लेकर हो रहे उग्र प्रदर्शन के बाद यूपी पुलिस अलर्ट पर है. हिंसक प्रदर्शन पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को उपद्रवियों पर कड़ी कार्रवाई का निर्देश दिया है. आजमगढ़ के मुबारकपुर में प्रदर्शनकारियों ने पुलिस पर पत्थरबाजी की. कई गाड़ियों और दुकानों में भी तोड़फोड़ की गई.

इसे भी पढ़ें: CAA पर तत्काल रोक लगाने से सुप्रीम कोर्ट का इनकार, केन्द्र सरकार से मांगा जवाब