देश में 65 दिनों बाद कोरोना से सबसे कम मौतें, 28 करोड़ लोगों को लगी कोरोना वैक्सीन

देश में संक्रमण से 1,422 और लोगों की मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 3,88,135 हो गई. देश में 65 दिन बाद संक्रमण से मौत के इतने कम मामले सामने आए हैं.

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Jun 21, 2021, 11:33 AM IST
  • 24 घंटों के भीतर 1,422 लोगों की कोरोना से मौत
  • देश में अभी 7 लाख कोरोना के सक्रिय मामले
देश में 65 दिनों बाद कोरोना से सबसे कम मौतें, 28 करोड़ लोगों को लगी कोरोना वैक्सीन

नई दिल्ली: भारत में 88 दिन बाद, 24 घंटे में कोविड-19 के सबसे कम 53,256 नए मामले सामने आने के बाद देश में संक्रमण कुल मामले बढ़ कर 2,99,35,221 हो गए. उपचाराधीन मरीजों की संख्या भी कम होकर 7,02,887 हो गई है.

24 घंटों के भीतर 1,422 लोगों की मौत

केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से सुबह आठ बजे जारी किए गए अद्यतन आंकड़ों के अनुसार, देश में संक्रमण से 1,422 और लोगों की मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 3,88,135 हो गई. देश में 65 दिन बाद संक्रमण से मौत के इतने कम मामले सामने आए हैं. 

अभी 7,02,887 लोगों का कोरोना वायरस संक्रमण का इलाज चल रहा है, जो कुल मामलों का 2.35 प्रतिशत है. मरीजों के ठीक होने की राष्ट्रीय दर भी बढ़कर 96.36 प्रतिशत हो गई है.

आंकड़ों के अनुसार, देश में अभी तक कुल 39,24,07,782 नमूनों की कोविड-19 संबंधी जांच की गई है, जिनमें से 13,88,699 नमूनों की जांच रविवार को की गई. नमूनों के संक्रमित आने की दैनिक दर 3.83 प्रतिशत है, पिछले 14 दिन से यह पांच प्रतिशत से कम बनी है. नमूनों के संक्रमित आने की साप्ताहिक दर भी कम होकर 3.32 प्रतिशत हो गई है. 

संक्रमण मुक्त हुए लोगों की संख्या लगातार 39वें दिन संक्रमण के नए मामलों से अधिक रही.

यह भी पढ़िए: International Yoga Day 2021: पीएम मोदी ने दिया योग से सहयोग का मंत्र, लॉन्च होगा M-Yoga ऐप

देश में 28 करोड़ लोगों को लगी कोरोना वैक्सीन

देश में अभी तक कुल 2,88,44,199 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं. कोविड-19 से मत्यु दर 1.30 प्रतिशत है. देश में अभी तक कुल 28,0036,898 लोगों को कोविड-19 रोधी टीके लग चुके हैं.

देश में पिछले साल सात अगस्त को संक्रमितों की संख्या 20 लाख, 23 अगस्त को 30 लाख और पांच सितम्बर को 40 लाख से अधिक हो गई थी. 

वहीं, संक्रमण के कुल मामले 16 सितम्बर को 50 लाख, 28 सितम्बर को 60 लाख, 11 अक्टूबर को 70 लाख, 29 अक्टूबर को 80 लाख, 20 नवम्बर को 90 लाख के पार हो गए. देश में 19 दिसम्बर को ये मामले एक करोड़ के पार और चार मई को दो करोड़ के पार चले गए थे.

यह भी पढ़िए: मौसम विभाग की भविष्यवाणी, दिल्ली और पड़ोसी राज्यों में फीका रहेगा मानसून

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़