देश के युवाओं को नशे के जाल में धकेलने की पाकिस्तानी साजिश का पर्दाफाश

पाकिस्तान भारत को बर्बाद करने की साजिश में हमेशा लगा रहता है. इस बार दुश्मन हमारे देश के युवाओं को नशे के जाल में झोकने की साजिश रच रहा था. इसके लिए 175 करोड़ की ड्रग्स भेजी जा रही थी.   

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Jan 6, 2020, 03:31 PM IST
    • गुजरात से अरबों की ड्रग्स पकड़ी गई
    • पाकिस्तान ने भेजी थी ड्रग्स
    • रविवार की रात हुई कार्रवाई
    • समुद्र से पकड़ी गई ड्रग्स की खेप
देश के युवाओं को नशे के जाल में धकेलने की पाकिस्तानी साजिश का पर्दाफाश

कच्छ: गुजरात के कच्छ से 5 संदिग्ध पाकिस्तानियों को पकड़ा गया है. ये लोग भारत में ड्रग्स की एक बड़ी खेप लेकर समुद्री रास्ते से घुस रहे थे. 

गुजरात के जखौ समुद्री क्षेत्र से हुए गिरफ्तार
रविवार की रात गुजरात के एंटी टेरोरिस्ट स्क्वैड, स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप और इंडियन कोस्ट गार्ड की टीम ने जखौ के पास 5 पाकिस्तानी घुसपैठियों को गिरफ्तार किया. ये सभी एक बोट में सवार होकर कच्छ के समुद्री मार्ग से होते हुए वे भारतीय सीमा में घुसपैठ कर रहे थे. इनके पास से ड्रग्स के 35 पैकेट बरामद किए गए थे. 

अरबों की ड्रग्स हुई बरामद
गिरफ्तार संदिग्ध पाकिस्तानियों के पास से जो 36 पैकेट बरामद हुए हैं. उसमें पैक ड्रग्स की कीमत 175 करोड़ रुपए है. पुलिस को गोपनीय सूचना प्राप्त हुई थी कि पाकिस्तान के आए तस्कर भारी मात्रा में नशीले पदार्थ लेकर भारतीय सीमा में प्रवेश करने वाले हैं. जिसके बाद गुजरात ATS, कोस्ट गार्ड, स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप ने रविवार की रात अपनी तैयारी शुरु कर दी थी. 

छापेमारी के दौरान ये ध्यान रखा गया था कि संदिग्ध ड्रग्स तस्कर नशीले पदार्थों की खेप समुद्र में नहीं फेंक पाएं और ना ही बोट से कूदकर भाग सकें. 

ये हैं गिरफ्तार संदिग्धों के नाम
छापे में जिन संदिग्ध पाकिस्तानियों को गिरफ्तार किया गया हैं, वो सभी करांची के रहने वाले हैं. उन सभी के नाम कुछ इस प्रकार हैं-
1. अनीस इसा भट्टी, उम्र-30 साल, निवासी- कराची
2. इस्माइल मोहम्मद, उम्र-50 साल, निवासी- बीट जजीरा, कराची
3. अशरफ उसमान, उम्र-42 साल, निवासी- केमाडी, बीट जजीरा, कराची
4. करीम अब्दुल्ला, उम्र-37 साल, निवासी- बीट जजीरा, कराची
5. अबू बकर अशरफ, उम्र-55 साल, निवासी- कराची

इन सभी से पूछताछ में जानकारी मिली है कि ड्रग्स की ये बड़ी खेप ईरान के पशनी से लाई गई थी. जिसे गुजरात पहुंचाना था. 

ये भी पढ़ें- इतना ज्यादा हिंदुओं से घृणा करता है पाकिस्तान

ये भी पढ़ें- पाकिस्तान के बालाकोट में फिर से शुरु हुआ आतंकी अड्डे, एक और सर्जिकल स्ट्राइक की जरुरत

ये भी पढ़ें- पाकिस्तान का दोहरा चरित्र

 

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़