राहुल चाह लें तो भी नहीं बन सकते वीर सावरकरः अमित शाह

नई दिल्लीः गृह मंत्री अमित शाह ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कहा कि वह चाह लें तो भी वीर सावरकर नहीं बन सकते, क्योंकि इसके लिए बहुत बड़ी तपस्या, बहुत बड़ा त्याग और बहुत देशभक्ति चाहिए. उन्होंने कहा कि इन तीनों में से कुछ भी राहुल गांधी के व्यक्तित्व में झलकता नहीं है. गृहमंत्री ने कहा कि राहुल गांधी को मालूम नहीं है कि वीर सावरकर ने 12 साल काला पानी की सजा के तहत अंडमान निकोबार की जेल में बिताए, ऐसे वो 12 दिन या 12 घंटे भी वो नहीं रह सकते.

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Dec 17, 2019, 09:18 PM IST
राहुल चाह लें तो भी नहीं बन सकते वीर सावरकरः अमित शाह

नई दिल्लीः गृह मंत्री अमित शाह ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कहा कि वह चाह लें तो भी वीर सावरकर नहीं बन सकते, क्योंकि इसके लिए बहुत बड़ी तपस्या, बहुत बड़ा त्याग और बहुत देशभक्ति चाहिए. उन्होंने कहा कि इन तीनों में से कुछ भी राहुल गांधी के व्यक्तित्व में झलकता नहीं है. गृहमंत्री ने कहा कि राहुल गांधी को मालूम नहीं है कि वीर सावरकर ने 12 साल काला पानी की सजा के तहत अंडमान निकोबार की जेल में बिताए, ऐसे वो 12 दिन या 12 घंटे भी वो नहीं रह सकते.

14 दिसंबर को की थी भारत बचाओ रैली
14 दिसंबर को भारत बचाओ रैली में राहुल गांधी ने कहा था कि, मुझसे भाजपा के लोग माफी मांगने के लिए कह रहे थे. भाइयों-बहनों लेकिन मेरा नाम राहुल सावरकर नहीं है, मेरा नाम राहुल गांधी है. मर जाऊंगा लेकिन माफी नहीं मागूंगा. राहुल गांधी का इशारा हिंदूवादी नेता रहे विनायक दामोदर सावरकर की तरफ था. प्रचारित किया गया है कि उन्होंने अंडमान की सेलुलर जेल में कारावास के दौरान माफी पत्र लिखा था. राहुल के 'रेप इन इंडिया' कहने पर संसद में भारी बवाल हुआ था. भाजपा ने राहुल गांधी से इस बयान पर ही माफी मांगने की बात कही थी.

सावरकर पर कटाक्ष करने वाले राहुल गांधी पर पलटवार करते हुए भाजपा ने कहा था कि कांग्रेस नेता के लिए अधिक उपयुक्त नाम 'राहुल जिन्ना' है क्योंकि मुस्लिम तुष्टिकरण की राजनीति उन्हें पाकिस्तान के संस्थापक का उत्तराधिकारी बनाती है.

नागरिकता कानून के खिलाफ पाकिस्तानी साजिश का खुलासा! पढ़ें: 10 बड़े अपडेट

रंजीत सावरकर ने जताई थी नाराजगी
वीर सावरकर के पोते रंजीत सावरकर ने नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि सरकार को राहुल के खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए. रंजीत सावरकर ने कहा, 'किसी को भी उनके (वीर सावरकर) खिलाफ आपत्तिजनक भाषा का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए. सरकार को राहुल गांधी के खिलाफ आपराधिक कार्रवाई करनी चाहिए.

उन्होंने कहा कि वह इस मामले में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से मुलाकात करेंगे. उन्होंने राहुल के खिलाफ मानहानि का मुकदमा दर्ज कराने की भी बात कही है.

राष्ट्रपति से मिलने के बाद कांग्रेस अध्यक्षा ने कह दी ऐसी बात

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़