अमित शाह ने कहा मोदी सरकार अपने हर क़ानून की कसौटी पर खरा उतरेगी

गृहमंत्री ने ऐसा कह कर आज साफ़ कर दिया कि जो क़ानून देश में बनाये जा रहे हैं, वे राष्ट्रहित को दृष्टि में रख कर बनाये जा रहे हैं, किसी और मंशा से नहीं !  

अमित शाह ने कहा मोदी सरकार अपने हर क़ानून की कसौटी पर खरा उतरेगी

नई दिल्ली. नागरिकता संशोधन क़ानून पर विपक्ष ने संसद में और जनता के एक वर्ग ने सड़क पर जोरदार विरोध प्रदर्शन किया है. संसद में तो न हो सका पर सड़क पर प्रदर्शनकारियों ने तोड़फोड़ भी की और आगज़नी भी. ऐसी  हालत में नए क़ानून को लेकर विरोध के इस दौर में गृहमंत्री ने देश को आश्वस्त किया है. 

सरकार अपने हर कदम के लिए स्क्रूटनी को तैयार 

गृहमंत्री अमित शाह ने जहां एक तरफ देश को नए नागरिकता क़ानून की वैधानिकता को लेकर आश्वस्त किया वहीं अपनी सरकार के हर कदम को कानूनी रूप से जायज़ बताया. शाह ने कहा कि मोदी सरकार अपने सभी कानूनों की कसौटी पर खरा उतरने के लिए तैयार है. 

पूरी तरह संवैधानिक निर्णय हैं सरकार के 

गृहमंत्री ने विशवास से कहा कि मैं देश की जनता से डंके की चोट पर कहना चाहता हूं जितने भी कदम उठाये जा रहे हैं, उसकी स्क्रूटनी के लिए नरेंद्र मोदी सरकार तैयार है. हमने पूर्ण रूप से संवैधानिक तौर पर सभी फैसले किए हैं. 

370, CAA और NRC कांग्रेस की देन

देश में नागरिकता कानून पर हो रहे विरोध प्रदर्शनों के मद्देनज़र गृहमंत्री ने यह बात कही. उन्होंने कहा कि मूल रूप से 370, CAA और NRC कांग्रेस ने पैदा किए हैं और अब वही इसका विरोध कर रही है. ये सभी कांग्रेस के मुद्दे हैं. 

मोदी सरकार ने लागू किये हैं बहु-प्रतीक्षित कानून

गृहमंत्री ने आगे कहा कि  नागरिकता कानून और एनआरसी लाने की बात तो पूर्व की कांग्रेस सरकार हमेशा से कहती आई है लेकिन इस पर कार्यान्वयन आज मोदी सरकार ने किया है तब यही कांग्रेस इसके विरोध पर उतारू हो गई है.