मंत्री अनिल विज ने राहुल-प्रियंका को बता दिया पेट्रोल बम

 हरियाणा सरकार में मंत्री अनिल विज ने राहुल गांधी और प्रियंका गांधी पर विवादित बयान दिया है. उन्होंने कहा कि प्रियंका गांधी और राहुल गांधी से सावधान रहें क्योंकि वे पेट्रोल बम हैं. विज ने कहा कि प्रियंका और राहुल जहां भी जाते हैं उनकी वजह से आग भड़कती है 

मंत्री अनिल विज ने राहुल-प्रियंका को बता दिया पेट्रोल बम

चंडीगढ़ः अपने बयानों की वजह से हमेशा सुर्खियों में रहने वाले हरियाणा सरकार में मंत्री अनिल विज ने राहुल गांधी और प्रियंका गांधी पर विवादित बयान दिया है. उन्होंने कहा कि प्रियंका गांधी और राहुल गांधी से सावधान रहें क्योंकि वे पेट्रोल बम हैं. विज ने कहा कि प्रियंका और राहुल जहां भी जाते हैं उनकी वजह से आग भड़कती है और वे पब्लिक प्रॉपर्टी के नुकसान का कारण बनते हैं.

नागरिकता कानून को लेकर हो रहे प्रदर्शनों के बीच कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी हिंसा के दौरान मारे गए लोगों के परिवारवालों से मुलाकात करने पहुंच रही हैं. बिजनौर में उन्होंने दो मृतकों के परिवारवालों से मुलाकात की थी. मंगलवार को प्रियंका गांधी और राहुल गांधी मेरठ में हिंसक प्रदर्शनों के दौरान मारे गए लोगों के परिवारवालों से मिलने पहुंच रही थीं. हालांकि, उन्हें बॉर्डर पर पुलिस द्वारा रोक लिया गया और गाड़ियां वापस लौटा दी गईं.

सोनिया को लेकर भी की थी टिप्पणी
इससे पहले हरियाणा के गृहमंत्री अनिल विज ने कहा था कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने खुद इटली से आकर भारत की नागरिकता ले ली लेकिन पड़ोसी राज्यों में प्रताड़ित हो रहे हिंदू और सिख जो भारत में गुमनामी की जिंदगी जी रहे हैं, उनको नागरिकता देने का विरोध कर रही हैं. विज ने कहा था कि इन प्रताड़ित लोगों का मूल देश ही भारत है.

मेरठ जाने पर रोके गए थे राहुल-प्रियंका
नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान मेरठ में मारे गए लोगों के परिजनों से मुलाकात के लिए जा रहे कांग्रेस नेता राहुल गांधी और पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा को मंगलवार को पुलिस ने रोक लिया. दोनों नेता एक ही कार में सवार थे. मेरठ में एंट्री से पहले ही जिले के बॉर्डर पर पुलिस ने उन्हें रोक लिया.

पुलिस ने कानून-व्यवस्था का हवाला देकर दोनों नेताओं को रोका, जिसके बाद दोनों ने अपनी गाड़ी दिल्ली की तरफ मोड़ दी.

बिजनौर गईं थीं प्रियंका
इससे पहले प्रियंका बिजनौर भी गई थीं और हिंसा में मारे गए लोगों के परिजनों से मुलाकात की थी. गौरतलब है कि सोमवार को ही कांग्रेस पार्टी ने दिल्ली के राजघाट पर CAA के खिलाफ सत्याग्रह किया था, जिसमें राहुल गांधी, सोनिया गांधी और प्रियंका गांधी शामिल हुए थे.