• कोरोना वायरस पर नवीनतम जानकारी: भारत में संक्रमण के सक्रिय मामले- 2,76,685 और अबतक कुल केस- 7,93,802: स्त्रोत PIB
  • कोरोना वायरस से ठीक / अस्पताल से छुट्टी / देशांतर मामले: 4,95,513 जबकि मरने वाले मरीजों की संख्या 21,604 पहुंची: स्त्रोत PIB
  • कोविड-19 की रिकवरी दर 62.08% से बेहतर होकर 62.42% पहुंची; पिछले 24 घंटे में 19,135 मरीज ठीक हुए
  • पिछले 24 घंटे में कोविड-19 के 19,135 मरीज ठीक हो चुके हैं, ठीक हुए लोगों और सक्रिय मामलों के बीच का अंतर 2 लाख से अधिक है
  • भारत में प्रति मिलियन आबादी पर कोविड-19 के सबसे कम 538 मामले हैं जबकि वैश्विक औसत 1497 हैं
  • MoHFW ने कोविड-19 के हल्के मामलों में HCQ का उपयोग करने की सिफारिश की और गंभीर रोगियों को इसके सेवन से बचने की सलाह दी
  • एएसआई के स्मारकों में फ़िल्म शूटिंग करने के लिए 15 दिन के अंदर मिलेगी इजाजत
  • 750 मेगावाट की रीवा सौर परियोजना से हर साल करीब 15 लाख टन CO2 बराबर कार्बन उत्सर्जन में कमी आएगी, PM राष्ट्र को करेंगे समर्पित
  • मंत्रालय एक राष्ट्र-एक राशन कार्ड योजना को जनवरी 2021 तक शेष सभी राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों में लागू करने के लिए प्रयासरत है
  • MHRD: विज्ञान, तकनीक और कानून आदि जैसे विषयों पर प्राथमिक से PG तक की गुणवत्ता वाली सामग्री विभिन्न प्रारूपों में उपलब्ध है

चीन पर मोदी सरकार की डिजिटल 'सर्जिकल स्ट्राइक' से कांग्रेस में खलबली

भारत और चीन के बीच चल रहे गतिरोध पर राहुल गांधी और सोनिया गांधी की बयानबाजी से देश पहले से ही खफा है लेकिन अब कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने 59 चीनी एप्स बन्द करने का विरोध किया है.

चीन पर मोदी सरकार की डिजिटल 'सर्जिकल स्ट्राइक' से कांग्रेस में खलबली

नई दिल्ली: मोदी सरकार ने चीन के मुंह पर करारा तमाचा जड़ते हुए उसके 59 चर्चित एप्स पर रोक लगा दी है. इस फैसले का स्वागत पूरा देश कर रहा है लेकिन जिस निर्णय का देश स्वागत करता है कांग्रेस उसका विरोध करती है. राजीव गांधी फाउंडेशन में चीन से पैसा लेने वाली कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल ने इस फैसले का विरोध किया है.

एप बन्द करने के बजाय चीन से अपनी जमीन वापस ले सरकार- कपिल सिब्बल

कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने ट्वीट करके कहा कि हमारी जमीन को वापस लो जबकि आप चीन की ऐप्स बैन कर रहे हैं. सुरक्षा में जो गैप हैं उनको भरने की कोशिश करो, आप पर हमारे भरोसे को टूटने ना दो. हमारे वीर जवानों ने चीनी सेना को वापस भेजकर उन्हें फिर से नया मानचित्र बनाने के लिए मजबूर किया है.

ये भी पढ़ें- चीनी Apps पर प्रतिबंध के बाद आपके मन में चल रहे सारे सवाल के जवाब, जानिए यहां

भारत सरकार ने 59 एप पर लगाई रोक

आपको बता दें कि चीन के साथ सीमा विवाद के करीब दो महीने बाद भारत सरकार ने ये कड़ा कदम उठाया है. सरकार ने चीन के मोबाइल ऐप्स को देश की बाहरी और आंतरिक सुरक्षा के लिए बड़ा खतरा बताते हुए प्रतिबंध का ये फैसला लिया है. Tik tok, Cam scaner, Share It, Helo, Vigo Video, UC Browser, Club Factory, Mi Video Call-Xiaomi, Viva Video, WeChat और UC News जैसे मशहूर एप्लिकेशन पर रोक लगा दी है. इन एप्स के भारत में करोड़ों यूज़र्स हैं.