योगी सरकार में मंत्री की बेटी के खिलाफ टिप्पणी मामले में नसीमुद्दीन फंसे

योगी सरकार में मंत्री स्वाती सिंह की बेटी पर आपत्तिसनक टिप्पणी करने के मामले में पूर्व बसपा नेता और मायावती सरकार में मंत्री रहे नसीमुद्दीन सिद्दीकी की मुश्किलें बढ़ गयी हैं.

योगी सरकार में मंत्री की बेटी के खिलाफ टिप्पणी मामले में नसीमुद्दीन फंसे

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के लखनऊ की एक स्पेशल कोर्ट ने योगी सरकार में मंत्री स्वाती सिंह की बेटी के खिलाफ कथित तौर पर अभद्र टिप्पणी करने के मामले में न्यायालय में पेश नहीं होने पर उत्तर प्रदेश के पूर्व मंत्री नसीमुद्दीन सिद्दीकी समेत पांच लोगों के खिलाफ मंगलवार को अरेस्ट वारंट जारी किया. ये मामला उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले का है.

पांच लोगों के खिलाफ जारी हुआ वारंट

स्पेशल कोर्ट ने जज पवन कुमार राय ने बहुजन समाज पार्टी के तत्कालीन नेता सिद्दीकी तथा पार्टी के अन्य नेताओं राम अचल राजभर, मेवालाल गौतम, नौशाद अली और अतर सिंह राव के खिलाफ यह वारंट जारी किया है. इन सभी पर स्वाती सिंह की बेटी पर अभद्र टिप्पणी करने का आरोप है.

अगली सुनवाई अब 3 जनवरी को होगी

इस मामले की अगली सुनवाई अब 3 जनवरी को होगी. इस मामले में 22 जुलाई 2016 को केस दर्ज किया गया था. इस मामले में 12 जनवरी 2018 को चार्जशीट दाखिल की गई थी. चार्जशीट के बाद कोर्ट ने सभी आरोपियों को तलब किया था, लेकिन वे पेश नहीं हुए. मामले की सुनवाई के दौरान कोर्ट ने कहा कि आरोपी लगभग दो साल से सुनवाई के दौरान गैरमौजूद रहे.

भाजपा नेता दयाशंकर सिंह की पत्नी हैं स्वाती सिंह


   
बीएसपी सुप्रीमो मायावती के खिलाफ अभद्र टिप्पणी करने के कारण बीजेपी से एक बार 6 साल के लिए निकाले गये भाजपा नेता दयाशंकर सिंह की पत्नी स्वाती सिंह हैं. जब दयाशंकर सिंह ने मायावती पर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी तब विरोध में बसपा के नेताओं और कार्यकर्ताओं ने स्वाती सिंह की बेटी को लेकर बहुत अमर्यादित और शर्मनाक बातें की थीं जिसका केस हजरतगंज थाने में चल रहा था.

क्लिक करें- लखनऊ विश्वविद्यालय पेपर लीक मामला: शिक्षा व्यवस्था को कलंकित करते कलयुगी प्रोफेसर