पाकिस्तानी सेना का फिर दुस्साहस, भारतीय फौज ने सबक सिखाया तो दुबक गए कायर

जम्मू कश्मीर में नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तान की सेना ने एक बार फिर सीजफायर का उल्लंघन करते हुए गोलीबारी की है. लेकिन भारतीय सेना ने इसका करारा जवाब दिया. जिसके बाद दुश्मन के होश ठिकाने आ गए.

पाकिस्तानी सेना का फिर दुस्साहस, भारतीय फौज ने सबक सिखाया तो दुबक गए कायर
भारतीय सेना ने पाकिस्तान के छक्के छुड़ाए

नई दिल्ली: नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तान (Pakistan) अपनी घटिया हरकतों से बाज नहीं आ रहा है. जम्मू कश्मीर (Jammu and Kashmir) में पाकिस्तान ने एक बार फिर संघर्षविराम का उल्लंघन (ceasefire violation) करते हुए गोलीबारी की है. 

सुबह 11.30 पर की गोलीबारी
पाकिस्तान की तरफ से उसकी फौज ने घने कोहरे के बीच 11.30 बजे तंगधार और कंझावालन में गोलीबारी शुरु कर दी. सेना ने जानकारी दी कि पाकिस्तान ने पुंछ के मानकोटे क्षेत्र में छोटे हथियारों से गोलीबारी करने के साथ ही मोर्टार दागे थे. जिसका भारतीय सेना ने मुंहतोड़ जवाब दिया. 

पाकिस्तान की ओर से हुई गोलाबारी में किसी के हताहत होने की खबर नहीं है. सेना के एक बयान के अनुसार, "पाकिस्तान ने सुबह 11:30 बजे के आसपास पुंछ में शाहपुर, किरनी और कसबा सेक्टरों में एलओसी के पास मोर्टार व छोटे हथियारों से अचानक गोलीबारी करके संघर्षविराम का उल्लंघन किया"

भारत की तरफ से मिला करारा जवाब
पाकिस्तान के इस दुस्साहस पर भारतीय जांबाजों का खून खौल उठा. उन्होंने पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब दिया है. ऐसी खबर मिली है कि भारत के जवाब में पाकिस्तान के दो सैनिक मारे गए और दुश्मन की एक पोस्ट तबाह हो गई. मारे गए दोनों पाकिस्तानियों की लाशें LOC पर ही देर तक पड़ी रहीं. भारतीय हमले के डर से पाकिस्तानी काफी देर तक अपने सिपाहियों की लाशें उठाने भी नहीं आए. 

भारतीय सेना की तरफ से करारा जवाब दिए जाने के बाद पाकिस्तान को भारी नुकसान हुआ, जिसके कारण पाकिस्तानी सेना काफी देर तक सहमी हुई दिखी. जिसके बाद नियंत्रण रेखा पर शांति हो गई. 

लगातार दुस्साहस कर रहा है पाकिस्तान
पाकिस्तान की फौज ने 5 अगस्त 2019 के बाद से अब तक LOC पर 950 बार सीजफायर तोड़ा है. जबकि 2019 में अब तक पाकिस्तान की तरफ से 2400 बार सीजफायर तोड़ा गया. यही नहीं पिछले साल जब दोनों देशों के बीच तनाव का कोई कारण नहीं था तब भी पाकिस्तान ने 1800 बार सीजफायर तोड़ा. 

भारतीय सेना हर बार पाकिस्तान पर जवाबी हमला करके उसे भारी नुकसान पहुंचाती है लेकिन पाकिस्तान सबक सीखने के लिए तैयार नहीं है. इस हफ्ते की शुरुआत में सोमवार से ही पाकिस्तान की फौज उत्तरी कश्मीर में उरी से लेकर तंगधार तक नागरिक और सैन्य ठिकानों पर हमला कर रही है. 

ऐसी खबर है कि बुधवार को भारतीय सेना की जवाबी कार्रवाई में 10 पाकिस्तानी फौजी मारे गए थे. दरअसल पाकिस्तान के बढ़ते दुस्साहस की वजह ये है कि सर्दी की बढ़ने से बर्फ गिरनी शुरु हो गई है. ऐसे में पाकिस्तान की फौज आतंकियों को भारतीय इलाके में घुसपैठ कराने की भरपूर कोशिश में जुटी है. 

लेकिन भारतीय सेना भी  अलर्ट है. पाकिस्तान की हरकतों को देखते हुए घुसपैठरोधी तंत्र मजबूत किया गया है और अग्रिम इलाकों में तैनात सभी सैन्य अधिकारियों को गश्तीदलों, नाका पार्टियों व संतरी पोस्ट पर तैनात जवानों औऱ अधिकारियों बेहद सतर्क रहने को कहा गया है.