प्रियंका ने लखनऊ में मनाया स्थापना दिवस, बोलीं-मोदी सरकार कायर

एनआरसी और सीएए के मुद्दे पर योगी और मोदी सरकार पर दमनकारी नीति का आरोप लगाते हुए प्रियंका गांधी ने कहा, 'बिजनौर में एक बच्चे को मारा गया. जिसको जान से नहीं मार पाए, उसे लाठियों से पीटा गया और जेल में डाल दिया गया. युवाओं और छात्रों के पीटा गया क्योंकि वे देश के संविधान के पक्ष में सड़क पर आ गए. अगर हम आज आवाज नहीं उठाएंगे तो हम भी कायर कहलाएंगे.

प्रियंका ने लखनऊ में मनाया स्थापना दिवस, बोलीं-मोदी सरकार कायर

लखनऊः कांग्रेस के 135वें स्थापना दिवस पर पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी शनिवार को लखनऊ पहुंची. पार्टी दफ्तर में कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए प्रियंका गांधी ने कहा कि मोदी सरकार कायर है और यह देश उसकी कायरता को पहचान रहा है. एनआरसी और सीएए के मुद्दे पर प्रियंका गांधी ने कहा कि जब जनता ने आवाज उठाई तो ये पीछे हटने लगे. यह कायर की पहचान है.

एनआरसी और सीएए के मुद्दे पर योगी और मोदी सरकार पर दमनकारी नीति का आरोप लगाते हुए प्रियंका गांधी ने कहा, 'बिजनौर में एक बच्चे को मारा गया. जिसको जान से नहीं मार पाए, उसे लाठियों से पीटा गया और जेल में डाल दिया गया. युवाओं और छात्रों के पीटा गया क्योंकि वे देश के संविधान के पक्ष में सड़क पर आ गए. अगर हम आज आवाज नहीं उठाएंगे तो हम भी कायर कहलाएंगे.

देश पहचान रहा है आपकी कायरताः प्रियंका
कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने कहा, 'जनता ने आवाज उठाई तो ये पीछे हटने लगे. आज कहते हैं कि एनआरसी की कोई चर्चा नहीं, हम तो एनपीआर की बात कर रहे हैं. यह कायर की पहचान है. यह देश आपको पहचान रहा है. आपकी कायरता पहचान रहा है. यूपी सरकार पर निशाना साधते हुए प्रियंका गांधी ने कहा कि आवारा पशुओं से किसान परेशान हैं और सरकार कुछ नहीं कर रही है.

कहा, बड़े-बुजुर्गों से लें अनुभव
प्रियंका गांधी ने पार्टी नेताओं को संदेश दिया कि आगे बढ़ने के लिए लोगों के पास जाइए. उन्होंने कहा, 'सबसे पहले बुजुर्गों के पास जाइए और उनसे सीखिए. जितने भी जिलाध्यक्ष और पदाधिकारी हैं, वे बुजुर्गों के अनुभव से सीखें. हम भले ही सत्ता में नहीं हैं लेकिन हम लोगों के साथ खड़े हो सकते हैं. जहां कोई भी परेशान है, हम उसका साथ दें. हमें अहिंसा के रास्ते पर चलना है, कहीं भी हिंसा का रास्ता नहीं अपनाना है.

कार्यकर्ताओं को दिलाई शपथ
कांग्रेस के स्थापना दिवस पर लखनऊ पहुंची प्रियंका गांधी ने संविधान की प्रस्तावना पढ़ी और कार्यकर्ताओं को शपथ दिलाई. प्रियंका ने कांग्रेस नेताओं के बलिदान को याद करते हुए कहा कि कार्यकर्ताओं को पार्टी के महान नेताओं के पद चिह्नों पर चलने का संकल्प लेना चाहिए. उन्होंने कहा कि वह संविधान पर हमला करने वालों का विरोध करेंगी.

प्रियंका ने पार्टी नेताओं को दिया संघर्ष का मंत्र
यूपी का प्रभार देख रहीं प्रियंका ने पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं से कहा कि हमें लंबी मेहनत करके पार्टी को मजबूत बनाना है. प्रियंका ने कहा, 'संघर्ष करके हमें लोगों की आवाज बनना है. दूसरी विपक्षी पार्टियां कुछ कर नहीं रही हैं. डर रही हैं या क्या है, हमें नहीं पता लेकिन हम नहीं डरेंगे. हम इतना मजबूत बनना है कि अगले चुनाव में हम अकेले लड़ें और लोगों की आवाज उठाएं. 

सरकार पर बरसे राहुलः आरएसएस के खिलाफ की अभद्र टिप्पणी