RBI ने ब्याज दरों में नहीं किया कोई बदलाव, महंगाई पर चिंता बरकरार

RBI ने ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं किया है, लेकिन तीसरी और चौथी तिमाही में विकास दर के लिए पॉजिटिव अनुमान जताया. महंगाई को लेकर अभी भी चिंता बरकरार है.

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Dec 4, 2020, 12:56 PM IST
  • ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं
  • आने वाले दिनों में 'पॉजिटिव' ग्रोथ
  • सस्ती EMI के लिए अभी और इंतजार
  • रेपो रेट में कोई बदलाव नहीं
RBI ने ब्याज दरों में नहीं किया कोई बदलाव, महंगाई पर चिंता बरकरार

नई दिल्ली: भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं किया है, लेकिन तीसरी और चौथी तिमाही में विकास दर के लिए जताया पॉजिटिव अनुमान जताया है. फिलहाल महंगाई को लेकर अभी भी चिंता बरकरार है. इस दौरान RBI के गवर्नर शक्तिकांत दास ने GDP पर भी जानकारी दी.

ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं

जानकारी के मुताबिक RBI ने ब्याज दरों में किसी प्रकार का कोई बदलाव नहीं किया है. लेकिन 2021 के लिए वास्तविक जीडीपी विकास -7.5% अनुमानित है. आरबीआई के गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा कि ग्रामीण मांग में सुधार से और मजबूत होने की उम्मीद है जबकि शहरी मांग भी गति पकड़ रही है.

रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा कि "MPC ने सर्वसम्मति से दरों में बदलाव नहीं करने का फैसला लिया है. अगले साल तक एकोमोडेटिव स्टैंस जारी रहेगा. ग्रोथ में रिवाइवल के लिए एकोमोडेटिव स्टैंस जारी रहेगा. महंगाई और ग्रोथ में बैलेंस बनाना जरूरी है. डिपॉजिटर के हितों को देखते हुए दो बैंकों का तुरंत रिजोल्यूशन रिजर्व बैंक ने पूरा किया."

शक्तिकांत दास ने बताा कि "फाइनेंशियल मार्केट आऊटलुक- रिकवरी के साइन दूसरी छमाही से दिख रहे है, रिजर्व बैंक ने पॉजिटिव सेंटिंमेंट के लिए कई बड़े फैसले लिए हैं. रिजर्व बैंक लिक्विडिटी के लिए आगे भी मार्केट पारटिसिपेंट्स के हितों में कदम उठाएगा."

RBI के गवर्नर ने कहा कि MPC ने मौद्रिक नीति के समायोजन के रुख को तब तक जारी रखने का निर्णय लिया, जब तक कि चालू वित्त वर्ष में कम से कम और अगले साल तक टिकाऊ आधार पर विकास को पुनर्जीवित करना और COVID-19 के प्रभाव को कम करना, जबकि यह सुनिश्चित करना कि मुद्रास्फीति लक्ष्य के भीतर बनी रहे.

ग्रोथ और महंगाई का आउटलुक- CPI महंगाई अक्टूबर तक 7.6% तक पहुंच गया है. Q4 CPI महंगाई का अनुमान- 5.4% लगाया गया है. इकॉनमी में उम्मीद से बेहतर रिकवरी हो रही है. ग्रामीण डिमांड में रिकवरी काफी उत्साहजनक है. ग्रोथ आउटलुक: रियल जीडिपी ग्रोथ 2021 के लिए (-) 7.5% का अनुमान है. ये सारी जानकारी खुद RBI के गवर्नर ने दी है.

देश और दुनिया की हर एक खबर अलग नजरिए के साथ और लाइव टीवी होगा आपकी मुट्ठी में. डाउनलोड करिए ज़ी हिंदुस्तान ऐप, जो आपको हर हलचल से खबरदार रखेगा... नीचे के लिंक्स पर क्लिक करके डाउनलोड करें-

Android Link - https://play.google.com/store/apps/details?id=com.zeenews.hindustan&hl=en_IN

iOS (Apple) Link - https://apps.apple.com/mm/app/zee-hindustan/id1527717234

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़