'मुस्लिमों के लिए सैंकड़ों देश है! तो हिंदू होना पाप है क्या?'

नागरिकता पर केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी का बड़ा बयान. कहा- मुस्लिमों को शरण देने के लिए दुनिया में 100 से ज्यादा देश हैं, लेकिन हिंदुओं के लिए एक भी नहीं.

'मुस्लिमों के लिए सैंकड़ों देश है! तो हिंदू होना पाप है क्या?'

नई दिल्ली: देशभर में नागरिकता संशोधन कानून की आड़ में आग लगाने की नापाक साजिश रची जा रही है. दंगाइयों का हुजूम सड़कों पर उतरकर संपत्तियों को नुकसान पहुंचा रही है. इस बीच केंद्रीय मंत्री नितिन गड़करी का एक बड़ा बयान सामने आया है.

केंद्रीय मंत्री ने दिखाया आईना

केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने बताया कि 'नागरिकता संशोधन कानून किसी भी भारतीय मुस्लिम के खिलाफ नहीं है, यह केवल तीन राष्ट्रों के धार्मिक अल्पसंख्यकों को सताए जाने वाले लोगों को नागरिकता देने के लिए है. मैं अपने मुस्लिम भाइयों से अपील करता हूं, कांग्रेस के इस गलत अभियान के के बहकावे में ना आएं, वो केवल आपको वोट मशीन के रूप में देखते हैं.'

हिंदू होना पाप है क्या?

नागरिकता कानून पर केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने बड़ा बयान दिया है. नागरिकता कानून के समर्थन में निकाली गई रैली में गडकरी ने कहा है कि क्या हिंदू होना पाप है. दुनिया में मुस्लिमों को शरण देने के लिए सैकड़ों देश और लेकिन हिंदुओं के लिए सिर्फ भारत है. 

'कन्विंस' नहीं, तो 'कन्फ्यूज़' सही

साथ ही नागरिकता कानून का विरोध कर रहे लोगों को केंद्रीय मंत्री गडकरी ने गुमराह बताया है. साथ ही कहा है कि नागरिकता संशोधन कानून पर अगर लोग 'कन्विंस' नहीं, तो 'कन्फ्यूज़' ही सही.

दिल्ली में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की रैली की चल रही है. रैली के लिए लाखों की संख्या में लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा है. इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रामलीला मैदान में लोगों को संबोधित किया. पीएम मोदी ने नागरिकता संशोधन कानून के भ्रमजाल को तोड़ा. और विपक्षी दलों को जमकर खरी खोटी सुनाई. इस रैली का नाम भारतीय जनता पार्टी ने 'आभार रैली' दिया. जिसमें पीएम मोदी को दिल्ली बीजेपी की तरफ से धन्यवाद दिया गया.

इसे भी पढ़ें: हुआ हंसराज हंस का सम्बोधन, कहा जनता धन्यवाद दे रही है पीएम मोदी को!

पीएम मोदी का ये संबोधन बीजेपी की तरफ से दिल्ली चुनाव का आगाज भी माना जा रहा है. रैली को लेकर बीजेपी कार्यकर्ताओं में बहुत उत्साह देखा गया और वहां पर अलग-अलग प्रदेशों के कलाकार प्रदर्शन किए. मोदी की रैली के लिए सुरक्षा के लिए कड़े इंतजाम किए गए. क्योंकि खुफिया एजेंसियों के हवाले से मिली जानकारी के मुताबिक पीएम मोदी की इस रैली पर आतंकी हमले की साजिश रची गई थी. जिसके लिए जैश-ए-मोहम्मद ने अपने आतंकी राजधानी दिल्ली में भेजे थे.

इसे भी पढ़ें: CAA के नाम पर आग लगाने वाले करीब 250 लोगों के खिलाफ लगाया जा सकता है रासुका