• पूरी दुनिया में कोरोना से 1097810 लोग प्रभावित, अब तक 59140 लोगों की मौत हुई, 228405 लोग रोगमुक्त हुए
  • भारत में कोरोना मरीजों की कुल संख्या 2902, इसमें से 68 लोगों की मौत हुई, 184 इलाज के बाद ठीक हुए
  • महाराष्ट्र में कोरोना के सबसे ज्यादा 423 मरीज, 19 लोगों की मौत हुई, 42 लोग ठीक हुए
  • तमिलनाडु में कोरोना से 411 लोग प्रभावित, 1 की मौत, 6 लोग ठीक हुए
  • केरल में अब तक 295 लोगों को हुआ कोरोना, 2 की मौत हो चुकी है, 27 इलाज के बाद ठीक हुए
  • दिल्ली में कोरोना के 386 मरीज, 6 की मौत, 8 लोग ठीक हुए, मध्य प्रदेश में कोरोना से 155 लोग संक्रमित, 9 लोगों की मौत
  • यूपी में कोरोना के 188 मरीज, 14 लोग ठीक हुए, 2 लोगों की मौत
  • राजस्थान में कोरोना के 179 मरीज, 3 लोग इलाज के बाद ठीक हुए, अभी तक एक भी मौत नहीं
  • तेलंगाना में कोरोना के 158 मरीज, 7 लोगों की मौत, मात्र 1 ही इलाज के बाद ठीक हुआ
  • कर्नाटक में कोरोना के 128 मरीज और आंध्र प्रदेश में 161 लोगों में कोरोना वायरस का असर

दंगाइयों के बजाय कपिल मिश्रा को क्यों बनाया जा रहा है निशाना

दिल्ली में हुए दंगों के लिये जिम्मेदार लोगों के बचाव में खड़ी आम आदमी पार्टी और कांग्रेस को जेहादियों और दंगाइयों का खौफनाक चेहरा नहीं दिखता है बल्कि ये लोग उन कपिल मिश्रा पर झूठे आरोप लगा रहे हैं जो दिल्ली के लोगों को दंगे के दंश से बचाने की अपील कर रहे थे. 

दंगाइयों के बजाय कपिल मिश्रा को क्यों बनाया जा रहा है निशाना

दिल्ली: दिल्ली में नागरिकता कानून के विरोध में लोगों को भड़काने और उकसाने की राजनीति करने वाली आम आदमी पार्टी को अपने नेताओं के जहरीले और भड़काऊ बयान नहीं दिखते हैं. भाजपा नेता कपिल मिश्रा के वीडियो को आधार बना कर केजरीवाल और संजय सिंह अपने कुकृत्यों को छिपा रहे हैं. दरअसल सच्चाई ये है कि कपिल मिश्रा उस वायरल वीडियो में लोगों को सच बता रहे हैं और अमानतुल्ला खान, ताहिर हुसैन जैसे दंगाइयों से लोगों को बचाने की कोशिश कर रहे थे.

वीडियो जारी कर कपिल ने AAP को किया बेनकाब

 

भाजपा नेता कपिल मिश्रा एक वीडियो जारी करके उन सभी नेताओं के झूठ को बेनकाब कर रहे हैं जो लोग कपिल मिश्रा पर मिथ्या आरोप लगा रहे हैं. कपिल ने अपने वीडियो में बताया कि 'गुरुग्राम में एक बस पर जब पत्थर फेंके गये थे तो अरविंद केजरीवाल ने इसे आतंकवाद बताया था और हिंदुओं के रामायण, महाभारत जैसे पवित्र धर्मग्रंथों को इस घटना से जोड़ दिया था. आज नागरिकता कानून के विरोध के नाम पर बसें जलाई जा रही हैं और आप नेताओं के द्वारा हिंदुओं के खिलाफ जहर उगला जा रहा है तो इसे केजरीवाल किस आतंकवाद से जोड़ेंगे'. कपिल ने कहा कि जो लोग दिल्ली हिंसा के लिये मुझे आरोपी बता रहे हैं वे खुद 38 लोगों की हत्या के लिये जिम्मेदार हैं. कपिल मिश्रा ने केजरीवाल के दोहरेपन पर प्रहार करते हुए कहा कि आप नेता ताहिर हुसैन जैसे दंगाइयों ने बेकसूर अंकित शर्मा और रतललाल जैसे 38 मासूमों को मार डाला.

देश को बांटने की साजिश: कपिल मिश्रा

कपिल मिश्रा ने कहा कि आज दिल्ली में वहीं नारे लगे रहे हैं जो आजादी से पहले पाकिस्तान बनाने के लिये लगाए जा रहे थे. हिंदुओं की कब्र खुदेगी AMU की छाती पर, जिन्ना वाली आजादी जैसे तमाम नारे इसी देश में लगे रहे हैं और ये नारे आम आदमी पार्टी और कांग्रेस के पोषित गुंडों और दंगाइयों के द्वारा नागरिकता कानून के कथित विरोध के नाम पर लगाए जा रहे हैं. वामपंथी पत्रकारों का एक बड़ा गैंग इन देशद्रोहियों को बचा रहा है. आपको बता दें कि ये सच्चाई है कि जामिया और  AMU में देश तोड़ने वालों पर केजरीवाल के द्वारा एक शब्द भी नहीं बोला गया है, उल्टे वे कपिल मिश्रा के बहाने खुद को बचा रहे हैं.

आप नेता के घर चल रही थी दंगा करवाने की ट्रेनिंग

 

दंगा फैक्ट्री के सरदार और AAP के निगम पार्षद ताहिर हुसैन के घर ने कई दिल्लीवालों के आशियाने जला दिए. आम आदमी पार्टी के पार्षद ताहिर हुसैन का घर दंगों के दौरान ये घर मौत के साजो सामान से लैस था और यहां से दंगाई इंसानियत की धज्जियां उड़ा रहे थे. ताहिर के घर पर गुलेल, पत्थर, पेट्रोल बम और तमाम ऐसी वस्तुएं मिली हैं जो पूरी दिल्ली में हिंदुओं को निशाना बनाने के लिये रखी गयी थीं. अंकित शर्मा की हत्या के आरोपी ताहिर पर उसके परिवार को भी शक है और संजय सिंह बेशर्मी से उसका बचाव कर रहे हैं.

CAA के बहाने जेहाद करने की तैयारी

नागरिकता संशोधन कानून के नाम पर जामिया, अलीगढ़, सीलमपुर, मुस्तफाबाद और शाहीन बाग में जेहादी नेरा लग रहे हैं. अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष ने धमकी दी थी कि हम वो कौम हैं जो पूरे पूरे मुल्क बर्बाद कर देती है. साथ ही वहां पर  'हिंदुओं की कब्र खुदेगी AMU की छाती पर', 'पाकिस्तान से रिश्ता क्या- या इलाह इल्लिलाह' जैसे जेहाद के जहरीले नारे लगाए गये. फिर भी अरविंद केजरीवाल इन दंगाइयों को दिल्ली हिंसा के लिये जिम्मेदार नहीं बता रहे हैं. कांग्रेस और आम आदमी पार्टी इन आतंक परस्तों पर बोलने के बजाय राष्ट्रवादी कपिल मिश्रा को निशाना बना रहे हैं ताकि उनका मुस्लिम वोटबैंक बना रहे. अरविंद केजरीवाल ने कभी देशद्रोही नारों का विरोध नहीं किया.

ये भी पढ़ें- AAP नेता के घर में चल रही "दंगा फैक्ट्री" से जुड़ी 10 बड़ी जानकारी

हिंदुओं के खिलाफ लोगों को भड़का रहा अमानतुल्ला

एक वीडियो में केजरीवाल का सबसे खास विधायक अमानतुल्ला खान जिसने मनोज तिवारी और कुमार विश्वास से हाथापाई की थी वो शाहीन बाग में लोगों को हिंदुओं के खिलाफ भड़का रहा था और कहा रहा था कि आज ये CAA लाए हैं कल ये अजान बंद करा देंगे और परसों मुसलमानों की टोपी पर बैन लगा देंगे. हम आपसे पूछते हैं क्या नागरिकता कानून में ऐसा कुछ भी लिखा है. क्या कपिल मिश्रा ने ऐसी कोई बात कभी कही थी. आपका जवाब होगा- नहीं. फिर भी आम आदमी पार्टी की अमानतुल्ला खान को दंगाई कहने की हिम्मत नहीं होती और ये लोग कपिल मिश्रा को दंगाई कहते हैं जिन्होंने कभी ऐसी बात कही ही नहीं. 

ये भी पढ़ें- क्या अपने पति राजीव गांधी की तरह सोनिया हैं दिल्ली को दहलाने की वजह?