AAP नेता के घर में चल रही "दंगा फैक्ट्री" से जुड़ी 10 बड़ी जानकारी

आम आदमी पार्टी (AAP) पार्षद ताहिर हुसैन के घर में "दंगा फैक्ट्री" चल रही थी. इसके सबूत सामने आ चुके हैं. लेकिन AAP अपने नेता को बचाने में जुटे हुए हैं. आपको AAP के "घर" में चल रही दंगा फैक्ट्री से जुड़ी 10 बड़ी जानकारी से रूबरू करवाते हैं.

AAP नेता के घर में चल रही "दंगा फैक्ट्री" से जुड़ी 10 बड़ी जानकारी

नई दिल्ली: कहने को तो ये दिल्ली के चांद बाग का मामूली सा घर है. लेकिन इसे "दंगा फैक्ट्री" कहा जाना गलत नहीं होगा. दंगा फैक्ट्री के सरदार और AAP के निगम पार्षद ताहिर हुसैन के घर ने कई दिल्लीवालों के आशियाने जला दिए. आम आदमी पार्टी के पार्षद ताहिर हुसैन का घर दंगों के दौरान ये घर मौत के साजो सामान से लैस था और यहां से दंगाई इंसानियत की धज्जियां उड़ा रहे थे.

"फसाद फैक्ट्री" से जुड़ी 10 बड़ी जानकारी

इस घर की हर मंजिल पर दिल्ली को लहुलुहान का सामान पड़ा हुआ था. अब आपको बताते हैं कि ताहिर हुसैन ने कैसे रची दंगों को भड़काने की साजिश. ताहिर हुसैन का वो घर जो 'फसाद फैक्ट्री' की भूमिका अदा कर रहा था. उसकी करतूत से जुड़े 10 बड़ी जानकारी देते हैं.

1. घर की छत पर मिला पेट्रोल बमों का जखीरा
2. हर मंजिल पर रखे थे ईंट पत्थरों से भरे बोरे
3. छत पर पन्नियों में मिला 'खतरनाक' केमिकल
4. दंगों के दौरान छत पर से बरसाए गए पेट्रोल बम
5. दंगाइयों ने ईंट-पत्थरों से लोगों को निशाना बनाया
6. दंगों के दौरान पूरे घर में जमी थी दंगाइयों की भीड़
7. दंगों के दौरान ताहिर हुसैन दंगाइयों के साथ थे
8. हमले के समय ताहिर हुसैन के हाथ में भी रॉड थी
9. अंकित समेत 4 लोगों को ताहिर के घर ले जाने का आरोप
10. अंकित का शव चांद बाग के नाले में मिला

"दंगाईयों" को ढाल बनाकर फैलाई दंगे की आग!

आम आदमी पार्टी (AAP) नेता ताहिर हुसैन का घर और फसाद फैक्ट्री की छत, जहां दंगाइयों ने इस इलाके को शमशान बनाने का पूरा इंतजाम कर रखा था. यहां पर, ईंट बरसाने के लिए गुलेल के अलावा पेट्रोल बम, खतरनाक केमिकल और पत्थरों का पूरा जखीरा पड़ा हुआ था.

मासूम और निर्दोषों के खिलाफ इस युद्ध की अगुवाई खुद पार्षद ताहिर हुसैन कर रहे थे. उन्हीं के निर्देशन में यहां से हर वो काम किया जा रहा था जिससे दंगा भड़क सके. वीडियो में साफ देखा जा सकता है कि ताहिर किस तरह से हाथों में डंडे लेकर उन्मादी बने हुए थे.

इस वीडियो को देखकर ये अंदाजा लगाया जा सकता है कि ताहिर हुसैन ने कैसे दंगाईयों की दहशतगर्दी का नेतृत्व किया और फिर कैसी झूठी बातें बोलकर खुद को बचाने की कोशिश कर रहे हैं. सोशल मीडिया पर ये मांग तेज हो गई है कि ताहिर हुसैन की गिरफ्तारी हो.

इसे भी पढ़ें: क्या अपने पति राजीव गांधी की तरह सोनिया हैं दिल्ली को दहलाने की वजह?

दिल्ली हिंसा में मारे गए इंटेलीजेंस ब्यूरो के कर्मचारी अंकित शर्मा की हत्या की साजिश रचने का भी आरोप ताहिर हुसैन पर लगाया जा रहा है. दिल्ली दंगों में 30 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई है ऐसे में दिल्ली पर दंगों का दाग जिसने लगाया है उसपर सख्त कार्रवाई की जानी चाहिए.

इसे भी पढ़ें: 'दंगा फैक्ट्री' का सरदार है AAP पार्षद ताहिर हुसैन, यहां पढ़ें उसके 4 झूठ

इसे भी पढ़ें: बुरे फंसे ताहिर, अब चांद बाग के नाले में शव फेंकने का वीडियो सामने आया