ये बम सत्तर किलोमीटर दूर से उड़ा देंगे चीनी बौनों के चिथड़े

भारत ने आज तक कभी इतनी बड़ी सामरिक तैयारी नहीं की थी, जितनी उसे चीन के साथ सीमा पर चल रहे सैन्य गतिरोध ने करने के लिए विवश कर दिया है. लेकिन अब ये तैयारी सारी दुनिया देख रही है और चीन भी..  

ये बम सत्तर किलोमीटर दूर से उड़ा देंगे चीनी बौनों के चिथड़े

नई दिल्ली.  भारत युद्ध नहीं चाहता पर युद्ध के लिए आतुर हो रहे चीन के लिए भारत ने तैयारी भी पूरी कर रखी है. भारत ने चीन पर पहले ही भारतीय सीमा के भीतर धमाके कर दिए हैं - चीनी सामान का बहिष्कार करके और चीनी कंपनियों को बाहर की तरफ का रास्ता दिखा करके. इतना ही नहीं अब चीन के 59 ऐप्स पर प्रतिबंध लगाने के बाद चीन को बहुत दर्द हुआ है. अब चीन की सीमा के भीतर धमाके होंगे और दर्द कहीं बहुत ज्यादा होगा.

 

आ रहे हैं 'स्पाइस-2000' बम 

यदि चीन ने कोई भी गलत हरकत सीमा पर की तो इस बार लट्ठबाजी नहीं होगी, गोलियां चलेंगी और गोले चलेंगे. गोले और बम का नया जखीरा आ रहा है भारतीय सीमा पर और इनके साथ आ रहे हैं 'स्पाइस-2000' बम. ये बम धमाका तो ज़ोरदार करते ही हैं, सत्तर किलोमीटर दूर से ही लक्ष्य को तबाह कर देते हैं.

पाकिस्तान ने चखा है इन बमों का स्वाद 

स्पाइस-2000 नाम पाकिस्तान कभी नहीं भूलेगा. क्योंकि ये वही बम हैं जिनसे भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान में एयरस्ट्राइक के दौरान आतंकवादी कैंपों को नेस्तोनाबूद किया था. ये बम जहां एक तरफ आसमान से जमीन पर आकर लक्ष्य को तबाह करने में इस्तेमाल किये जाते हैं वहीं सत्तर किलोमीटर दूर से चल कर निशाने को तबाह भी कर देते हैं.

भारत खरीद रहा है एडवांस वर्ज़न 

भारत चीन के साथ इस सैन्य-तनातनी के मद्देनज़र युद्ध के लिए बेहद उपयोगी शक्तिशाली स्पाइस-2000 बमों के आधुनिक वर्जन को खरीदने की तैयारी कर रहा है. भारतीय वायुसेना इमर्जेंसी फाइनैंशल पावर्स का इस्तेमाल करते हुए इन बमों को खरीदने की योजना बना रही है.

ये भी पढ़ें. मुसलमानों की जबरिया नसबन्दी करा रहा है चीन