समंदर में ट्रैफिक जाम: स्वेज नहर में फंसा बहुत बड़ा जहाज, ये है दुनिया की सबसे महत्वपूर्ण शिपिंग लेन

स्वेज नहर में चीन से माल लेकर जा रहे एक विशालकाय कंटेनर शिप एवर गिवेन समुद्र में फंस गई और इसकी वजह से भीषण ट्रैफिक जाम लग गया. खबरों की मानें तो इस कंटेनर शिप पर पनामा का झंडा लगा हुआ है.

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Mar 24, 2021, 05:14 PM IST
  • स्वेज नहर में लगा भीषण ट्रैफिक जाम
  • लाल सागर और भूमध्य सागर को जोड़ती है स्वेज नहर
समंदर में ट्रैफिक जाम: स्वेज नहर में फंसा बहुत बड़ा जहाज, ये है दुनिया की सबसे महत्वपूर्ण शिपिंग लेन

नई दिल्ली: सड़क पर ट्रैफिक जाम लगना बड़ी साधारण सी बात है. या यूं कहें तो यह रोज की ही बात होती है लेकिन क्या आपने कभी समुद्र में जाम लगते देखा है. लगा न सुनने में बहुत ही अजीब सा लेकिन यह सच है, समुंदर में भी भारी जाम देखने को मिला.

 

यह समंदर में ट्रैफिक जाम का नजारा स्वेज नहर में देखने को मिला. स्वेज नहज लाल सागर और भूमध्य सागर को आपस में जोड़ने वाली एक नहर है. यह नहर 168 किमी लंबी, 60 मी चौड़ी और 16.5 मी औसत गहरी है. इस नहर को बनाने में करीब 10 साल का समय लगा.

ये भी पढ़ें-क्या आप में हैं हिम्मत इस नाई से बाल कटवाने की? वीडियो देख कांप उठेगी रूह.

नहर का उद्घाटन ही यातायात के लिए किया गया था जहां आसानी से विदेशों से सामान लाया और ले जाया जा सकें.  वर्तमान में  Suez canal पर मिस्र देश का नियंत्रण है. जब इस नहर पर जाम लगा तो यह खबर चर्चा का विषय बन गया. 

समुद्र में फंसा शिप
स्वेज नहर में चीन से माल लेकर जा रहे एक विशालकाय कंटेनर शिप एवर गिवेन समुद्र में फंस गई और इसकी वजह से भीषण ट्रैफिक जाम लग गया. खबरों की मानें तो इस कंटेनर शिप पर पनामा का झंडा लगा हुआ है.

कंट्रोल खोने से फंसा शिप
घटना मंगलवार सुबह की है जब स्वेज पोर्ट के उत्तर में नहर को पार करने के दौरान शिप पर कंट्रोल नहीं किया जा सका और 400 मीटर लंबा और 59 मीटर चौड़ा कंटेनर शिप समुंदर में फंस गया. शिप को बाहर निकालने के लिए बड़े पैमाने पर टग बोट्स (जहाजों को धक्का देने वाली ताकतवर बोट) को तैनात किया गया है लेकिन अभी तक कामयाबी हाथ नहीं लगी है.

बताया जा रहा है कि शिप को बाहर निकालने में लंबा समय लग सकता है.

ये भी पढ़ें-क्या पति के सिर पर बाल और सेल्फी न लेने की वजह से आप लेंगी तलाक?.

शिप की वजह से ट्रैफिक जाम 
शिप के फंसने से लाल सागर और भूमध्य सागर के किनारों की यात्रा तय कर रही जहाजों को रास्ता नहीं मिलने की वजह से बड़ी संख्या में जहाजों का जाम लग चुका है. इस नहर के रास्ते हजारों की संख्या में छोटे-बड़े शिप यूरोप से एशिया और एशिया से यूरोप का सफर करते हैं.

कयास लगाए जा रहे हैं कि अगर यह रास्ता लंबे समय तक अवरोध रहा तो समुद्री जहाजों को पूरे अफ्रीका महाद्वीप का चक्कर लगाते हुए यूरोप तक जाना पड़ सकता है.

हवा के तेज झोंके की वजह से फंसा जहाज
वहीं एवर गिवेन के चालक दल ने बताया कि स्वेज नहर को पार करते समय अचानक से एक तेज बवंडर आ गया और हवा के झोंके काफी तेज होने की वजह से शिप घूम गया. जिसके बाद में चालक दल ने उसे वापस से सीधा करने का प्रयास किया तो वह नहर में फंस गया.

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.

 

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़